जमशेदपुर में युवक ने फांसी लगाकर दी जान, छठ घाट जाने से पहले कमरे में दिखी लाश

 

मृतक की फाइल फोटो। परिजनों ने कहा कि मनीष ने फंदा लगाकर आत्महत्या क्यों की है, इसकी उन्हें जानकारी नहीं है।

  • युवक कमरे का दरवाजा भीतर से बंद कर वह पर्दे के सहारे पंखे पर झूल गया
  • एकलौते पुत्र की मौत से माता-पिता समेत अन्य परिजनों का रो रोकर बुरा हाल है

टेल्को थाना क्षेत्र के टेल्को कॉलोनी में रहने वाले टिस्को कर्मी रामा चंद्रमा के इकलौते बेटे आर मनीष (26) ने शुक्रवार की देर रात फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। युवक ने अंदर से कमरा बंद कर पर्दे से फंदा बनाया और फांसी लगा ली। सुबह करीब 3 बजे परिजनों ने उसे फंदे से लटकता पाया। सूचना पाकर शनिवार सुबह पुलिस पहुंची और शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

आत्महत्या के कारणों की तलाश जारी

परिजनों ने कहा कि मनीष ने फंदा लगाकर आत्महत्या क्यों की है, इसकी उन्हें जानकारी नहीं है। पिता ने बताया कि सुबह पूरा परिवार छठ घाट पर जाने वाला था। रात को मनीष ने सबके साथ खाना खाया और घाट जाने के लिए सुबह उठा देने की बात कही। जब सुबह उसे जगाने पहुंचा तो उसने काफी देर तक दरवाजा नहीं खोला। फिर खिड़की से देखने पर मनीष फंदे से झूलता दिखा।

पिता के बयान पर थाना में यूडी केस दर्ज किया गया है। पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया। जानकारी के अनुसार युवक फिलहाल बेरोजगार था। पूर्व में वह ठेकेदार के यहां काम करता था।

पुलिस का है कहना

इधर, टेल्को थानेदार अखिलेश्वर मंडल ने बताया कि युवक नशे का आदि था। शुक्रवार की रात वह शराब पीकर घर आया था। इस कारण उसे परिजनों ने फटकार लगाई थी। संभवतः इस कारण युवक ने आत्महत्या की है।

 

Check Also

आज से बिना मास्क पैदल लोगों से सख्ती करेगी पुलिस, स्पेशल टीम कराएगी कोरोना टेस्ट, इसे लेकर मेयर ने 28 को बैठक बुलाई है

  मजिस्ट्रेट बोले- बिना मास्क सड़क पर नहीं निकलें, सब्जी-फल विक्रेताओं के बीच चलेगा जागरूकता …