*चीजें तो हाई क्वालिटी* का लेते हो परंतु *नींद लो क्वालिटी* का क्यों?

हम लोग कोई चीज लेते हैं तो हमें पता है हाई क्वालिटी अच्छा होता है इसलिए हाई क्वालिटी का ही लेती है लेकिन बात *नींद* की की जाए तो हम अनजाने में लो क्वालिटी का ले रहे है।

~. लो क्वालिटी नींद का नुकसान –
1.सुबह लेट में नींद खुलेगी।
2.डिमोटिवेट और पावर लेस फील करोगे।
3.अपने काम में जाने के लिए लेट होगा।
4.काम के वक्त नींद आ कर परेशान करेगी।
5. स्वास्थ्य खराब होना।                                                     6.कंसंट्रेट ना कर पाना काम में गड़बड़ी होना और  ना जाने कितने नुकसान हैं।

~   हाई क्वालिटी का नींद कैसे लें –
इसके लिए सिर्फ थोड़ी सी प्रयास करनी होगी

1.  न्यूनतम एक घंटा खुद को सोने सेेेेेे पहले डिवाइस से अलग रखें  । इससे होता यह है कि हमारे आंख में और दिमाग में किसी प्रकार का तनाव नहीं होताा।
2. सोनेेेेेे से पहले अच्छी अच्छी किताबेंं पढ़े। इससेेेे हमारे  दिमाग में पॉजिटिव   थॉट्स आते रहते हैं।
3. ध्यान दें बिस्तर पर ना पढ़े।  अदर वाइज हमारा दिमाग कंफ्यूूूज होते हैं कि हम सोनेेे आए हैं या पढ़ने।
4. सोने के समय ही बिस्तर बनाएं। जिससे दिमाग में कोई कंफ्यूजन ना हो कि पढ़ना हैैै या सोना है।
5. चिंतन मनन करें जैसे – आज क्या सीखा, आज क्या-क्या कियेे।
6. आगे की प्लानिंग करें।
7. नींद आने पर ही सोए और प्रयास करें करें कि 11:30pm तक सो जाएं।

इन सभी गुड हैबिट को डिवेलप करने के बाद आप सभी   लो क्वालिटी नींद के नुकसान से बच जाएंगे। और आपने नई अच्छी अच्छी आदतें इंप्रूव हो जाएगी जैसेे- कंसंट्रेट पावर ,कार्यक्षमता ,इफेक्टिव नेचर  ,  मोटिवेट, पॉजिटिव थॉट, आदि।
सुबह उठते ही पहलेेेे अपने बिस्तर ठीक करें। जिससे पूूरे बॉडी को एक मैसेज जाता है कि अब सोना नहीं है। 4am और 5 amके बीच जरूर सो कर उठ जाएं  ।
और अपने दिन की शुरुआत फ्रेश , योगाा ,प्रार्थन, और कुछ फल खा लें जिससे आपके अंदर एनर्जी हो ।

Check Also

खाने में कहीं नकली जीरे का इस्तेमाल तो नहीं कर रहे हैं आप, ऐसे करें पहचान

जीरा घर की रसोई का खास मसाला होता है. ये खाने का स्वाद तो बढ़ाता …