घर-घर राशन डिलीवरी योजना को LG की नामंजूरी के बाद CM केजरीवाल ने PM मोदी को पत्र लिख की ये मांग

दिल्ली में घर-घर राशन डिलीवरी योजना को उप-राज्यपाल की तरफ से हरी झंडी नहीं मिलने के बाद दिल्ली की सत्ताधारी पार्टी आप और बीजेपी एक दूसरे के ऊपर सियासी पलटवार कर रही है. वहीं दूसरी तरफ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसको लेकर मंगलवार को प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखा है. इसमें केजरीवाल ने कहा कि लोग ये पूछ रहे हैं कि अगर पिज्जा, बर्गर और स्मार्ट फोन की होम डिलीवरी हो सकती है तो फिर राशन की क्यों नहीं.

केजरीवाल ने आगे लिखा है, “ये कोरोना का कठिन समय है. कई लोग कोरोना के डर से राशन लेने नहीं जाते क्योंकि राशन की दुकान पर भीड़ लगती है. ये सब गरीब लोग हैं. कई लोगों ने कोरोना-काल में नौकरी भी खो दी है. उनके घर में खाने को नहीं है. अगर हम इन्हें इके घर राशन पहुंचाना चाहते हैं तो इसमें आपत्ति क्यों है? मुझे लगता है कि कोरोना काल में केवल दिल्ली में ही नहीं बल्कि पूरे देश में घर-घर राशन पहुंचाने की ये योजना लागू करनी चाहिए.”

दिल्ली सीएम ने लिखा कि मैं हाथ जोड़कर दिल्ली के 70 लाख करीबों की ओर से आपसे विनती करता हूं कि इस योजना को मत रोकिए, ये राष्ट्रित में है, इसे होने दीजिए. आज तक राष्ट्रहित के सभी कामों में मैंने आपका साथ दिया. मैंने हमेशा कहा है कि राष्ट्रहित के किसी भी कम में राजनीति होनी चाहिए. अगर कोई विपक्षी पार्टी की सरकार भी राष्ट्रहित में कोई काम करती है तो हम हमेशा उसका साथ देंगे.

Check Also

कोरबा पुलिस की ‘नीली बत्ती’ का सुरूर:अफसर को रायपुर छोड़कर लौटते तो खुद बन जाते पुलिस वाले; ट्रैक्टर चालक से लूटे रुपए और मोबाइल तो जांजगीर में पकड़े गए

आरोपियों ने पूछताछ में पुलिस को बताया कि जब्त की गई कोरबा पुलिस की ओर …