गोलीकांड पर बोले बलिया के विधायक, क्रिया की प्रतिक्रिया होती है, पहले आरोपी के परिजनों को पीटा गया

दिल्ली :  बलिया में हुए गोलीकांड को लेकर बीजेपी विधायक ने आरोपी को लेकर बड़ा बयान दिया है. उन्होंने इस पूरे मामले को लेकर एबीपी से बात की. बीजेपी विधायक सुरेंद्र सिंह ने इस पूरे मामले की जानकारी देते हुए कहा कि गोलीकांड के आरोपी को पीटा गया. उन्होंने कहा कि क्रिया की प्रतिक्रिया होती है.

 

सुरेंद्र सिंह ने कहा कि वहां प्रशासन पहले से मौजूद था. कोटे की दुकान के लाइसेंस के लिए खुली बैठक आयोजित की गई थी. इसी में कोटे का फैसला होना था. विधायक ने बताया कि इस बैठक में एक पक्ष ने पूरे दस्तावेज दे दिए थे जबकि दूसरा पक्ष नहीं दे रहा था. जिसके बाद वहां पर मारपीट और भगदड़ जैसी स्थिति हो गई. इस दौरान वहां लाठी-डंडे और पत्थर चलने लगे. जिसके चलते दर्जनों लोग घायल हो गए. विधायक सुरेंद्र सिंह आगे कहते हैं कि इसके बाद गोलीकांड के आरोपी को पिता को लोगों ने डंडे से मारा. विधायक कहते हैं कि अगर किसी को परिजन को कोई मार देगा तो क्रिया की प्रतिक्रिया होती है.

 

बीजेपी विधायक ने कहा कि इस घटना कि वह पुरजोर निंदा करते हैं और जिसने जो भी गलती की है, उसे उसी अंश में दंड मिलना चाहिए. सुरेंद्र सिंह ने कहा कि आरोपी के परिजन भी घायल हुए हैं, उनके आरोपियों पर भी कार्रवाई होनी चाहिए.

 

ये है मामला
बता दें कि गुरुवार को दुर्जनपुर गांव में सरकारी कोटे की दुकान के आवंटन को लेकर खुली बैठक बुलाई गई थी. इस बैठक में क्षेत्राधिकारी, थानाध्यक्ष और एसडीएम मौजूद थे. आवंटन के लिए दो समूह के लोग जमा थे, जिनमें एक पक्ष आरोपी धीरेंद्र प्रताप सिंह था. प्रक्रिया के दौरान धीरेंद्र और दूसरे समूह के बीच कहासुनी होने लगी. कहासुनी के बाद दोनों पक्षों में हंगामा हो गया. हंगामे को देखते हुए एसडीएम ने आवंटन की प्रक्रिया रोक दी. इसके बाद जब लोग वहां से जाने लगे तो धीरेंद्र प्रताप सिंह ने फायरिंग कर दी. गोली जयप्रकाश उर्फ गामा पाल को लगी, जिनकी अस्पताल ले जाते समय रास्ते में मौत हो गई. गोली मारने वाला धीरेंद्र प्रताप विधायक सुरेंद्र सिंह का करीबी बताया जा रहा है.

Check Also

कानून से ही कानून को मात दे रहा है माफिया मुख्तार अंसारी, पंजाब से खाली हाथ लौटी यूपी पुलिस

लखनऊ। अपराध मुक्त वातावरण की परिकल्पना हर कोई करता है, लेकिन यह कैसे संभव होगा इस …