गोंडा में 885 करोड़ की लागत से लगेगी 268 पाइप्ड पेयजल परियोजनाएं

गोंडा, 10 जून (हि.स.)। मोदी सरकार की जल जीवन मिशन योजना के तहत ग्रामीण अंचलों में लोगों को शुद्ध पेयजल उपलब्ध कराने के पाइप्ड पेयजल योजना पर जिले में तेजी से काम शुरू हो गया है। जिलाधिकारी मार्कण्डेय शाही ने 885 करोड़ की लागत से 268 नई परियोजनाओं की स्वीकृति प्रदान की है।
जनपद में अब तक जल जीवन मिशन के तहत 846 परियोजनाओं को स्वीकृति मिल चुकी है। जिसमें 846 ग्राम पंचायतों के 1261 राजस्व ग्रामों में पेयजल सुविधा पहुंचाई जाएगी।
जिलाधिकारी ने बताया कि जल जीवन मिशन कार्यक्रम के अन्तर्गत 2640 बस्तियों की 86 हजार 976 आबादी को पेयजल की आपूर्ति हो सकेगी। इसके अलावा अमृत योजनान्तर्गत नगर पालिका परिषद गोंडा में गृह जल संयोजन कार्य के तहत अब तक 7 हजार 936 घरों में कनेक्शन दिया गया है और 13.50 किलोमीटर पेयजल वितरण प्रणाली बिछाने का कार्य किया जा चुका है।
उन्होंने बताया कि पेयजल परियोजनाओं के निर्माण हेतु मेसर्स लारसेन एंड टुब्रो माउंट पूनमपल्ली रोड मनॉपक्कम चेन्नई को कार्यदायी संस्था बनाया गया है। पेयजल परियोजनाओं के निर्माण हेतु 846 ग्राम पंचायतों के सापेक्ष 698 ग्राम पंचायतों में भूमि उपलब्ध करा दी गई है। शीघ्र ही इन परियोजनाओं के निर्माण का कार्य शुरू होगा।
हिन्दुस्थान समाचार

Check Also

Lucknow: गर्लफ्रेंड ने दोस्तों के साथ सेक्स करने से किया इनकार तो कर दिया मर्डर, कॉल डीटेल्स से खुला राज; आरोपी बॉयफ्रेंड समेत 3 गिरफ्तार

लखनऊ में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है. एक युवक ने अपनी …