गेस्ट फैकल्टी संघ ने टीएमबीयू के रजिस्ट्रार के कक्ष में किया हंगामा

 

  • एक साल तक पढ़ाने वालाें काे भी दिया केवल 3 दिन का अनुभव प्रमाणपत्र

अनुभव प्रमाणपत्र में गड़बड़ी काे लेकर गेस्ट फैकल्टी संघ ने साेमवार काे टीएमबीयू के रजिस्ट्रार के कक्ष में जमकर हंगामा किया। शिक्षकाें का कहना था कि जिस शिक्षक ने एक साल तक पढ़ाया उसे रजिस्ट्रार ने तीन दिन के अनुभव लाभ का सर्टिफिकेट दे दिया। संबंधित शिक्षक ने अपने आवेदन में सभी जरूरी डाॅक्यूमेंट दिए थे इसके बाद भी गलत सर्टिफिकेट दिया गया।

ऐसे कई सर्टिफिकेट दिए गए हैं। संघ के अध्यक्ष डॉ. आनंद आजाद के नेतृत्व में कई गेस्ट फैकल्टी रजिस्ट्रार कार्यालय में पहुंचे और शिकायत कर हंगामा किया। रजिस्ट्रार काे हंगामे की आशंका थी इसलिए कुछ देरी से ऑफिस पहुंचे थे। लेकिन उनके आते ही गेस्ट फैकल्टी ने गड़बड़ी के आराेप लगाना शुरू कर दिया। ऐसे में रजिस्ट्रार ने संबंधित विभाग के सेक्शन ऑफिसर को बुलाया।

रजिस्ट्रार ने गलती काे सुधारने की बात कही। आनंद आजाद ने कहा कि रजिस्ट्रार ने पूर्व में कहा था कि जो शिक्षक जिन कॉलेज में पूर्व में कार्यरत थे, उन्हें वहीं के विश्वविद्यालय से प्रमाण पत्र मिलेगा जबकि मुंगेर विश्वविद्यालय से अलग होने के बाद अतिथि शिक्षकों का सारा रिकार्ड टीमएमबीयू में है। इस पर भी विराेध जताया गया। गेस्ट फैकल्टी काे असिस्टेंट प्रोफेसर की नियुक्ति के लिए शिक्षण अनुभव के सर्टिफिकेट की जरूरत है।

 

Check Also

बिहार: न्याय की गुहार लगाने थाने पहुंचा था वृद्ध, पुलिस ने की ऐसी हरकत की जानकर रह जाएंगे हैरान

सहरसा: बिहार के सहरसा से बिहार पुलिस का गैरजिम्मेदाराना चेहरा सामने आया है, जहां पुलिस पीड़ित …