गर्भावस्‍था में उलटी और मतली आने से हैं परेशान, तो अपनाएं ये घरेलू उपाय

गर्भावस्‍था बहुत से शारीरिक बदलावों की स्थिति होती है। इस दौरान शरीर में बहुत सारे बदलाव होते हैं। खासतौर से शुरूआती तिमाही में उलटी और मतली से ज्‍यादातर महिलाएं परेशान रहती हैं। इस‍ स्थिति में डॉक्‍टर भी किसी तरह की दवा लेने की मनाही करते हैं। इसलिए यहां दिए जा रहे हैं वे घरेलू उपाय जो गर्भावस्‍था में होने वाली इस तरह की परेशानियों से आपको दिलाएंगे निजात…..

अदरक :- अगर गर्भवती स्त्री को बार बार उल्टी हो रही हो तो उन्हे अदरक की चाय पिलाइए। इसके अलावा दो चम्मच अदरक व प्याज का रस पिलाइए। इससे उल्टी होना बंद हो जाएगी। इसके अलावा अदरक के रस में धनियां का रस मिलाकर पीने से भी उल्टी की समस्या से निजात मिलेगी।

तुलसी :- गर्भ धारण करने पर कुछ महिलाओं को बार बार उल्टी आती है। इस समस्या से बचने के लिए तुलसी के पत्तों के रस का सेवन करें। इसके अलावा तुलसी के पत्ते के रस में शहद मिलाकर सेवन करें। इससे भी उल्टी बंद हो जाती है।

अजवाइन :- गर्भधारण करने वाली महिला को उल्टी, गैस या कब्ज़ की समस्या हो तो उन्हे थोड़ी अजवाइन ज़रूर लेनी चाहिए। इसके सेवन से उल्टी भी बंद हो जाती है और हाजमा भी ठीक रहता है।

आंवला ;- गर्भावस्था में बार बार उल्टी होने पर आँवला या आँवले का मुरब्बा का सेवन करें। इससे इस समस्या से निजात मिल जाएगा।

शहद :- बार बार गर्भवती महिला को उल्टी होने पर हर्रे को पीसकर शहद के साथ सेवन करें। इसके अलावा शहद और दालचीनी मिलाकर खाएं। इससे उल्टी की समस्या से निजात मिलेगा।

चने का सत्तू :- गर्भवती महिला के गर्भ धारण करने पर अगर उसे बार बार उल्टी सताए तो भुने हुए चने के सत्तू में नमक, चीनी और पानी घोलकर पिलाइए। इससे उल्टी की समस्या दूर होती है।

नींबू :- गर्भवती महिला के जी मिचलाने या उल्टी होने पर 1 चम्मच नींबू के रस में थोड़ा काला नमक मिलाकर चाटने से आराम मिलती है।

पर ध्‍यान रहे इस अवस्‍था में किसी भी चीज का जरूरत से ज्‍यादा सेवन नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए कोई भी घरेलू उपाय बहुत थोड़ी मात्रा में और एक निश्‍चित अंतराल पर ही करें।

Check Also

रहना चाहते हैं हेल्‍दी एंड फिट, ये 7 बातें अभी से फॉलो करना शुरू करें

आजकल रहन-सहन इतना महंगा हो गया है कि सब कुछ बजट के बाहर चला गया …