गर्भावस्था में महिलाये जरूर पहनें पैरों में ये छोटी सी चीज, शिशु को होंगे ये 5 बड़े फायदे!

महिलाये शादी के बाद कई तरह के गहने पहनती है। जैसे की शादी के बाद सभी महिलाएं बिछिया पहनती है। इसे कहीं न कहीं विवाहित महिला की निशान और सोलह श्रंगार का अभिन्न रूप माना जाता है। आप इसे गर्भवती अवस्था में पहन कर कई परेशानियों से बच सकती हैं। आज हम आपको प्रेग्नेंसी के दौरान महिला के पैरों में बिछिया पहनने के फायदे के बारे में बता रहे हैं।

करता है एक्यूप्रेशर का काम –

पैरों में बिछिया पहनने से ये एक्यूप्रेशर का काम करती हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि पैरों की उंगलियों में बिछिया पहनने से दबाब बनता है जो गर्भाशय को स्वस्थ रखता है। ऐसी मान्यता है कि गर्भावस्था के दौरान पैरों में बिछिया पहनने से महिला के पेट संबंधित रोग भी दूर होते हैं और शिशु का स्वास्थ्य भी बेहतर रहता है।

तनाव से दिलाते हैं छुटकारा –

इस अवस्था में महिलाएं अक्सर तनाव की चपेट में आ जाती हैं। जो महिलाएं वर्किंग होती हैं उन्हें इस दिक्कत का ज्यादा सामना करना पड़ता है। उन्हें इस समस्या से राहत पाने के लिए पैरों में बिछिया पहनी चाहिए क्योंकि इससे दिमाग शांत रहता है। कई बार प्रेग्नेंसी के दौरान महिला का ब्लड प्रेशर घटने या बढ़ने लगता है जिससे महिला और बच्चे दोनों को खतरा हो सकता है। बिछिया पहनने से ब्लड प्रेशर की समस्या से भी छुटकारा पाया जा सकता है। यानि कि बिछिया पहनना बहुत अच्छा होता है।

बढ़ाते हैं पॉजिविटी –

प्रेग्नेंसी के दौरान महिलाओं को थोड़ा साम काम करते ही थकान हो जाती है। शरीर में एनर्जी लाने के लिए पैरों में चांदी के बिछिया पहनना बहुत अच्छा होता है। चांदी को वैसे भी शरीर के लिए ठंडा माना जाता है। इसे पहन कर जमीन पर चलने से उसके शरीर को सकारात्मक ऊर्जा मिलती है जो कि गर्भावस्था के लिए बेहद फायदेमंद है। जिससे से उसका दिमाग भी शांत रहता है।

शिशु के लिए भी है फायदेमंद –

पैरों में बिछिया पहनना मां के गर्भाशय के लिए भी काफी अच्छा होता है। इसे पहनने से महिला का गर्भ स्वस्थ रहता है। इसे पहनने से महिला के साथ उसके गर्भ में पल रहा बच्चा भी शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ रहता है। बिछिया गर्भाशय में पल रहे बच्चे को भी ऊर्जा प्रदान करती हैं।

Check Also

Dahi-Kishmis Benefits: फिट रहना है तो दही में किशमिश के साथ मिला लें बस ये एक चीज, चौंका देंगे फायदे

Health Tips: सेहतमंद शरीर ही हमारा सबसे बड़ा वरदान है. हम हेल्दी रहने के लिए क्या …