Home / बिहार / खाद्यान्न की कालाबाजारी करने वालों पर होगी कानूनी कार्रवाई कैमूर डीएम ने कहा

खाद्यान्न की कालाबाजारी करने वालों पर होगी कानूनी कार्रवाई कैमूर डीएम ने कहा

न्यूज़ इंडिया लाइव: अनाज की कालाबाजारी करने वाले व्यवसायियों पर जिला प्रशासन नजर रख रही है. किसी भी सामान को कालाबाजारी करने पर प्रशासन को सूचना मिलते ही उनके विरुद्ध कानूनी कार्रवाई की जाएगी. बुधवार को डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी ने अपने कार्यालय कक्ष में जिले के सभी थोक विक्रेताओं के साथ बैठक की. जिसमें अनाज तथा किसी भी खाद्यान्न की कालाबाजारी रोकने और निर्धारित रेट पर सामान उपलब्ध कराने का निर्देश दिया.

खाद्यान्न के थोक विक्रेताओं को निर्धारित रेट पर ही ग्राहकों को सामान उपलब्ध कराना होगा. व्यवसायियों को इसके लिए हर संभव सहायता जिला प्रशासन मुहैया कराएगी. बाहर से आने वाले खाद्यान्न को सुरक्षित तरीके से व्यवसायियों के गोदाम तक पहुंचाने में जिला प्रशासन मदद करेगा.

डीएम डॉ. नवल किशोर चौधरी ने इस संदर्भ में थोक व्यवसायियों के साथ कार्यालय कक्ष में मीटिंग की. डीएम ने कहा कि वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के प्रभाव से कई समस्याओं का सामना भी लोगों को करना पड़ रहा है. इसके मद्देनजर बाजार में जरूरी सामान लोगों को आसानी से उपलब्ध हो इसके लिए जिला प्रशासन ने कारगर कदम उठाए हैं. थोक व्यवसायियों को यह निर्देश दिया गया है कि खाद्यान्न की कालाबाजारी किसी भी सूरत में ना की जाए. कालाबाजारी की सूचना पर प्रशासन त्वरित एक्शन लेते हुए कानूनी कार्रवाई करेगा.

डीएम ने विपदा की इस घड़ी में जरूरी एहतियात बरतते हुए सामग्री की बिक्री सुनिश्चित करने का निर्देश दिया. बता दें कि कोरोना वायरस के प्रभाव से बाजार में खाद्यान्न की कालाबाजारी की समस्या भी बढ़ गई है. लोगों को महंगाई की मार से भी जूझना पड़ रहा है. स्थिति पर नियंत्रण करने के लिए जिलाधिकारी ने व्यवसायियों को कई महत्त्वपूर्ण दिशा निर्देश दिए.

इस दौरान व्यवसायियों ने भी अपना माल लाने और ले जाने के संबंध में अपनी समस्याओं से जिलाधिकारी को अवगत कराया. जिस पर डीएम ने कहा खाद्यान्न का जो भी लॉट आना है अगर किसी तरह की परेशानी हो तो इसके लिए हर संभव जिला प्रशासन के द्वारा मदद की जाएगी. डीएम ने यह भी कहा कि अगर अनुमंडल स्तर से जरूरी हुआ तो एसडीओ के यहां से भी पास निर्गत कराया जाएगा.

इसके अलावा डीएम ने डेयरी उद्योग से जुड़े हुए लोगों से मॉल, पेट्रोल पंप साथ ही दैनिक उपयोग में आने वाली वस्तुओं की बिक्री करने वाले प्रतिनिधियों के साथ मीटिंग कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए. इस मौके पर एडीएम सुमन कुमार, डीडीसी के पी गुप्ता, जिला आपूर्ति पदाधिकारी प्रभात कुमार झा, सदर एसडीएम जन्मेजय शुक्ला के अलावे अनाज व खाद्यान्न के थोक विक्रेता मौजूद रहे.

Loading...

Check Also

पटना में डिलीवरी की वेटिंग लिस्ट हुई लंबी, लॉक डाउन के कारण धीमी हो गई सिलेंडर सप्लाई की रफ्तार

न्यूज़ इंडिया लाइव / पटना: बिहार इस समय लगातार कोरोना के क़हर से लड़ाई लड़ रहा ...