कौशांबी में सैनिक की संदिग्ध मौत:दो दिन पहले छुट्टी पर आए सेना के जवान का घर के बाहर मिला शव, शरीर पर मिले गंभीर चोट के निशान

 

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। SP का दावा है कि अहम सुराग हाथ लगे हैं। जल्द इस प्रकरण का खुलासा किया जाएगा। - Dainik Bhaskar

पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। SP का दावा है कि अहम सुराग हाथ लगे हैं। जल्द इस प्रकरण का खुलासा किया जाएगा।

  • चरवा थाना क्षेत्र के शेखपुर रसूलपुर गांव का मामला
  • ग्रामीणों ने पीट-पीट कर हत्या की आशंका जताई

उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले में सेना के जवान का शव उसके घर के बाहर पड़ा मिला। उसके शरीर पर चोटों के निशान मिले हैं। जवान दो दिन पहले छुट्टी लेकर घर आया था। आस पड़ोस के लोगों ने जवान की पीट-पीट कर हत्या किए जाने की आशंका जताई है। यह पूरा मामला चरवा थाना क्षेत्र के शेखपुर रसूलपुर गांव का है। सूचना पर पुलिस अधिकारियों ने मौका-ए-वारदात का जायजा लेकर जांच शुरू कर दी है। SP ने घटना के जल्द खुलासे का दावा किया है।

पत्नी से चल रहा था विवाद
शेखपुर रसूलपुर गांव निवासी बचई लाल के भंवर सिंह, राम कैलाश, धनश्याम और सोहन लाल चार बेटे थे। घनश्याम की बीमारी के चलते पहले ही मौत हो चुकी है। सोहन लाल असम प्रान्त के अरुणाचल में भारतीय सेना के GREF विंग में बतौर सैनिक तैनात था। सोहन लाल दो दिन पहले छुट्टी लेकर घर आया था। घर पर वह अकेले ही रहता था। परिवार के लोगों के अनुसार सोहन लाल पिछले दस सालों से अपनी पत्नी सविता यादव, बेटा सोमेश यादव (15) और बेटी शिखा यादव (17) से अलग रहता था। पारिवारिक विवाद के चलते पत्नी सोहन लाल से गुजरा भत्ता लिया करती थी। सुबह सैनिक सोहन लाल की लाश घर के बाहर चारपाई पर मिली।

सैनिक के शरीर पर मिले गंभीर चोट के निशान
सैनिक सोहन लाल की हत्या से पूरे गांव में मायूसी छा गई है। बवाल और हंगामे की आशंका में अफसर पुलिस बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे। पुलिस को सोहन के शरीर के कई हिस्सों में चोट के निशान मिले हैं। स्थानीय लोगों का कहना है कि सोहन की हत्या हो न हो किसी ने पीट-पीट कर की है। पुलिस अधिकारी मामले को गंभीरता को देखते हुए पोस्टमार्टम रिपोर्ट से पहले कुछ भी स्पष्ट बताने से कतरा रहे हैं।

शराब ने बिखेर दिया सोहन का परिवार
सैनिक सोहन लाल की शादी 14 साल पहले पिपरी थाना क्षेत्र के मखऊपुर गांव में रहने वाले सोहन लाल यादव की बेटी सविता से हुई थी। सविता के पिता गांव के सरकारी स्कूल में अध्यापक थे। शादी के बाद कुछ सालों तक दोनों का वैवाहिक जीवन सुखमय रहा। ससुर सोहन ने बताया, दामाद की शराब पीने की लत ने उसके परिवार को बिखेर दिया। सोहन की पत्नी सविता लड़ाई झगड़े से तंग आकर बच्चों के साथ मायके में दस सालों से रहती है। मामला परिवार न्यायालय में होने के चलते सविता पति से गुजरा भत्ता लेकर बच्चो की परवरिश करती है।

ससुर की तहरीर पर पुलिस ने शुरू की कार्रवाई
सोहन लाल इस दुनिया में नहीं है। अज्ञात लोगों ने उसकी हत्या कर दी। दामाद की हत्या की सूचना पाकर ससुर सोहन लाल खुद को रोक नहीं सके। पुलिस को तहरीर देकर उन्होंने सैनिक सोहन की हत्या की जांच की मांग की है।

हत्या की वारदात के बाद मौके पर जुटे लोग।

हत्या की वारदात के बाद मौके पर जुटे लोग।

मिले अहम सुराग, जल्द होगा खुलासा
SP अभिनन्दन ने बताया, सैनिक सोहन की लाश के पास से पुलिस को अहम सुराग मिले हैं। पुलिस ने सबूतों के आधार पर संदेह के घेरे में आए लोगों की तलाश शुरू कर दी है। जल्द की वह सोहन हत्या कांड का खुलासा करने में कामयाब होंगे।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

कोरोना को लेकर सियासत:पूर्व CM अखिलेश यादव ने योगी पर कसा तंज, कहा- कोरोना पर नियंत्रण पाने का झूठा ढिंढोरा क्यों पीटा, कहां हैं स्टार प्रचारक

  यूपी के पूर्व सीमए अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का प्रकोप लगातार …