Home / हेल्थ &फिटनेस / कोरोना वायरस से गर्भवती महिलाओं को ज्यादा खतरा, बरतें सावधानी

कोरोना वायरस से गर्भवती महिलाओं को ज्यादा खतरा, बरतें सावधानी

वैश्विक महामारी का रूप ले चुका कोरोना सबके लिए बड़ी चुनौती बना हुआ है। डब्ल्यूएचओ ने कोरोना के खतरे को देखते हुए गर्भवती महिलाओं या हाल में बच्चों को जन्म देने जा रही महिलाओं समेत नवजात बच्चों को सावधान रहने के लिए कहा है।

अगर आप इस समय गर्भवती हैं, तो आपके मन में भी कई सवाल उठ रहे होंगे। झलकारीबाई अस्पताल की स्त्रीरोग विशेषज्ञ डॉ. दीपा शर्मा ने गर्भवतियों के सवालों के जवाब दिए।

प्रश्न: गर्भवती हूं, बुखार है पर कहीं मुझे कोरोना तो नहीं?
जवाब: अगर आप गर्भावस्था में कोरोना के संपर्क में आ गई हैं तो आपको तेज बुखार और लगातार खांसी आने लगेगी। हालांकि इस समय वायरल बुखार का भी प्रकोप अधिक है, जरूरी नहीं कि बुखार के लक्षण कोरोना ही हो।

प्रश्न: मुझे वायरस हुआ तो गर्भस्थ शिशु पर इसका क्या असर होगा?
जवाब: अब तक इस बात का कोई प्रमाण नहीं मिल पाया है कि कोरोना वायरस से गर्भस्थ को भी अपनी मां से ये वायरस मिल सकता है। इसे वर्टिकल ट्रांसमिशन कहते हैं जो अब तक अप्रमाणित है।

प्रश्न: वजात शिशु है तो कैसे बरतें सावधानी?
जवाब: नवजात बच्चे को दूध पिलाने से पहले श्वसन संबंधी साफ-सफाई का अवश्य ध्यान रखें। मास्क जरूर पहनें।

प्रश्न: मेरे बच्चे को कोरोना से खतरा तो नहीं? 
जवाब: बच्चों में अभी तक सिर्फ एक मामला सामने आया है, पांच साल से कम उम्र के बच्चों के तापमान का ध्यान रखें। उन्हें खाने में ठंडे पदार्थ न दें।

Loading...

Check Also

ग्रीन टी पीने से होते हैं यह फायदे

लंदन :  ग्रीन टी पीने से कोलेस्‍ट्रोल कम करने में मदद मिलती है। सेहत विशेषज्ञों ...