कोरोना की विभीषिका : न्यूजीलैंड ने भारत से आने वालों पर लगाया प्रतिबंध, अब ऐसी है तैयारी

दिल्ली। कोरोना की विभीषिका का असर दुनिया पर तेजी से बढ़ रहा है। भारत मंे बढ़ रहे कोरोना के मामलों से दूसरे देश भी प्रभावित हो रहे हैं। कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच न्यूजीलैंड ने 11 अप्रैल से भारत से आने वाले यात्रियों पर अस्थाई रूप से प्रतिबंध लगा दिया है। भारत में कोरोना वायरस के नए मामलों में लगातार तेजी से बढ़ोतरी हुई है। प्रतिदिन एक लाख से अधिक नये मामले आ रहे हैं। भारत में कई शहरों में रात का कफ्र्यू के साथ लाॅकडाउन लगाया जा रहा है। न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री जैसिंडा अर्डर्न ने भारत से आने वाले सभी यात्रियों के लिए प्रवेश पर रोक लगा दी है। इसमें प्रतिबंध में न्यूजीलैंड के नागरिक भी शामिल हैं, जो भारत से अपने देश लौट रहे हैं। उन्होंने भी कोरोना के प्रतिबंधों का पालन करते हुए न्यूजीलैंड नहीं जाना है। रिपोर्ट के अनुसार यह प्रतिबंध 11 अप्रैल से शुरू होगा और 28 अप्रैल तक लागू रहेगी। न्यूजीलैंड सरकार भारत में, दुनिया में बढ़ रहे मामलों को लेकर चिंतित और सजग है।

 

भारत में कोरोना वायरस के मामलों में लगातार बढ़ोतरी हो रही है। बुधवार को अब तक के सर्वाधिक 1,15,736 नए मामले सामने आये हैं। नए मामलों में महाराष्ट्र, छत्तीसगढ़, कर्नाटक, उत्तर प्रदेश, दिल्ली, मध्य प्रदेश, तमिलनाडु और केरल की भागीदारी 80.70 प्रतिशत रही है। इन राज्यों में लाॅकडाउन और प्रतिबंध बढ़ता जा रहा है।

महाराष्ट्र में सबसे ज्यादा 55,469 मामले सामने आए। वहीं छत्तीसगढ़ में 9,921 और कर्नाटक में 6150 मामले आये। देशभर मे एक्टिव मरीजों की संख्या भी 8,43,473 हो गई है जो संक्रमण के कुल मामलों का 6.59 प्रतिशत है। भारत के लिए कोरोना का बढ़ता चुनौती बनता जा रहा है।

Check Also

नहीं रहे जिम्मी कार्टर के दोस्त:अमेरिका के पूर्व उपराष्ट्रपति वॉल्टर फ्रिट्ज मोंडेल का 93 साल की उम्र में निधन, मेट्रोपोलिस शहर स्थित घर में ली अंतिम सांस

1977 से 1981 के बीच जिम्मी कार्टर सरकार में वॉल्टर फ्रिट्ज मोंडेल उपराष्ट्रपति थे। (फाइल …