कोरोना का कहर:5 दिन में 21 नए पॉजिटिव, एक्टिव केसों की संख्या हुई 30 फिर भी बिना मास्क के घूम रहे लोग, सोशल डिस्टेंसिंग भी नहीं

सिविल अस्पताल में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाई जा रही धज्जियां। - Dainik Bhaskar

सिविल अस्पताल में सोशल डिस्टेंसिंग की उड़ाई जा रही धज्जियां।

  • कोरोना का नया स्ट्रेन पंजाब पहुंचने की एम्स डाॅयरेक्टर की चेतावनी, रोजाना बढ़ रहे केस, फिर भी हम गंभीर नहीं

जिला पठानकोट में 11 महीनों में 5904 कोरोना पाॅजिटिव मिल चुके हैं और इसमें 163 लोगाें की जानें भी जा चुकी हैं। जिले में अभी भी मरीजों का मिलना जारी है। वहीं एम्स डाॅयरेक्टर ने कोरोना का नया स्ट्रेन पंजाब में पहुंचने की चेतावनी भी दी है फिर भी हम गंभीर नहीं हैं। जिले में सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही है। वहीं ज्यादातर लोगों के मुंह पर मास्क भी गायब है।

हालांकि जिला प्रशासन और सेहत विभाग द्वारा लोगों को मास्क लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग का पालना करने को बार-बार अपील भी कर रहा है, लेकिन कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर हम इसे हलके में ले रहे हैं। बता दें कि पांच दिनों में कोरोना के 21 नए केस आ चुके हैं। जिला पठानकोट में अप्रैल महीने में कोरोना पाॅजिटिव पहली महिला मरीज मिली थी। सोमवार को जिले में कोरोना पाॅजिटिव एक मरीज मिला। जबकि एक्टिव मरीजों की संख्या बढ़कर 30 पहुंच गई है। तीन लोगों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज किया गया।

सोमवार को 806 लोगों का लिया गया सैंपल – एसएमओ डाॅ.राकेश सरपाल ने बताया कि सोमवार को 734 सैंपलों की रिपोर्ट आई थी। वहीं 806 लोगों के कोरोना की जांच हेतु सैंपल लिए गए हैं। वहीं अमृतसर में भेजे गए 92 सैंपलों की रिपोर्ट आना बाकी है।

31 दिन में कोविड वैक्सीन भी 59.47% लोगों को ही लगी-

सोमवार को 224 कर्मियों को लगी वैक्सीन-जिले में 16 जनवरी को शुरू हुई कोविड वैक्सीन 31 दिनों में 55 प्रतिशत हेल्थ वर्करों और फ्रंट लाइन पर काम करने वालों को ही लग सकी है। सोमवार को जिले के सिविल अस्पताल में बनाए गए वैक्सीनेशन सेंटर पर 132 लोगों को वैक्सीन लगी। इसमें 72 पुलिस कर्मियों, रेलवे अस्पताल के 10 कर्मी, आरपीएफ के 9, प्राइवेट से 2 और 4 हेल्थ वर्कर शामिल हैं। इसमें 97 लोगों को पहली डोज लगी और 35 लोगों ने दूसरी डोज लगवाई। इसके अलावा बुंगल बधानी सीएचसी में 32, घरोटा सीएचसी में 30 और नरोट जैमल सिंह में 30 लोगों को वैक्सीन लगी।

यानि की सोमवार को पहली बार सबसे ज्यादा 224 कर्मियों को वैक्सीन लगी। बता दें कि जिले में प्राथमिक चरण में सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों में 3375 हेल्थ वर्करों को वैक्सीन लगनी है। वहीं फ्रंट लाइन पर काम करने वाले जिले के 1350 पुलिस मुलाजिमों को वैक्सीन लगाने का लक्ष्य है। जिले में अब तक 31 दिनों में 2810 (59.47 प्रतिशत) हेल्थ वर्करों और फ्रंट लाइन पुलिस मुलाजिमों को वैक्सीन लगी है।

किस अस्पताल में कितने कोरोना मरीज-सिविल अस्पताल में कोरोना पाजिटिव लेवल-2 के 2 मरीज, प्राइवेट अस्पताल में लेवल-2 के 4 मरीज, दूसरे जिलों के लेवल-2 के 4 मरीज और 19 लोग होम आईसोलेशन चल रहे हैं। इनमें कोरोना पाजिटिव एक्टिव एक मरीज को शिफ्ट किया गया है।

 

Check Also

आजादी की 75वीं वर्षगांठ: PM मोदी की अध्यक्षता वाली 259 सदस्यों की कमिटी गठित, सोनिया भी शामिल

भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने के उपलक्ष्य में भारत सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र …