कोरोना और अमेरिका-चीन तनाव से सैमसंग को फायदा; कंपनी ने तीसरी तिमाही में बेचे 8.8 करोड़ हैंडसेट, चीनी कंपनियों को छोड़ा पीछे

  • सितंबर तिमाही में सैमसंग को हुआ 59% का मुनाफा

स्मार्टफोन एवं इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पाद बनाने वाली दक्षिण कोरिया की कंपनी सैमसंग ने साल की तीसरी तिमाही में काफी अच्छा कारोबार किया है। कंपनी ने गुरुवार को कहा कि सितंबर तिमाही में उसका लाभ 59 फीसदी बढ़कर दो साल के सबसे उच्च स्तर 10.89 अरब डॉलर पर पहुंच गया। कंपनी का लाभ कंप्यूटर मेमोरी चिप, स्मार्टफोन और उपकरणों की बिक्री के दम पर बढ़ा है। यह सैमसंग का किसी भी तिमाही का सबसे अधिक राजस्व है।

कंपनी ने 8.8 करोड़ हैंडसेट बेचे हैं

सैमसंग भारत सहित अपने कुछ प्रमुख बाजारों में 8.8 करोड़ हैंडसेट बेचे हैं। इनमें से 90 फीसदी से अधिक स्मार्टफोन की बिक्री हुई है, जबकि 90 लाख टैबलेट बेचे गए हैं। कंपनी ने आज यह जानकारी दी। हालांकि, कंपनी ने कहा कि कंप्यूटर चिप की मांग में कमी आई है।

काउंटर पॉइंट रिसर्च के मुताबिक, भारत में स्मार्टफोन के बाजार में शाओमी की जगह अपना वर्चस्व हासिल करने में सैमसंग को दो सालों का वक्त लगा। साल की तीसरी तिमाही (जुलाई से सितंबर तक की अवधि) में 24 फीसदी हिस्सेदारी के साथ सैमसंग ने शाओमी को पछाड़ पहले स्थान पर कब्जा जमा लिया है।

उत्पादों की मांग में तेजी देखी गई है

इस बार 23 फीसदी हिस्सेदारी के साथ शाओमी ने दूसरा स्थान हासिल किया है। सैमसंग ने कहा है कि तीसरी तिमाही में उत्पादों की मांग में तेजी देखी गई है। दूसरी तिमाही के समय से देश में लॉकडाउन के हटने के क्रम में आर्थिक गतिविधियों में गति लाई जा रही है। इस दक्षिण कोरियाई कंपनी ने कहा, गैलेक्सी नोट 20 और गैलेक्सी जेड फोल्ड 2 जैसे नए प्रमुख मॉडलों के लॉन्च के साथ-साथ भारत सहित प्रमुख क्षेत्रों में पिछली तिमाही से बड़े पैमाने पर स्मार्टफोन की बिक्री तेजी से बढ़ी है।

कोरोना और चीन-अमेरिका तनाव का मिला लाभ

बता दें कि सैमसंग को कोरोनावायरस महामारी के अलावा अमेरिका-चीन के व्यापारिक तनाव दोनों से फायदा हुआ है। अमेरिका के द्वारा चीन की कंपनियों के ऊपर पाबंदियां लगाने से हुआवेई का बाजार बाधित हुआ है। इससे स्मार्टफोन, स्मार्टफोन चिप और दूरसंचार उपकरण के क्षेत्र में सैमसंग की सबसे बड़ी कंपनियों को नुकसान हुआ है।

 

Check Also

यहां कौड़ियों के भाव मिल रहा लाखों का सोना, लेकिन करना होगा पहले ये छोटा-सा काम

सोना..एक ऐसा आभूषण जो सौंदर्यता के साथ-साथ शानो शौकत की भी पहचान दिलाता है, मगर …