कोटा सेना भर्ती कार्यालय का मामला:आठ जिलों के अभ्यर्थियों के साथ किया अन्याय; यथावत रखें निरस्त की गई भर्ती व आयु सीमा में मिले छूट

 

कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपने केलिए जाते सेना भर्ती के अभ्यर्थी - Dainik Bhaskar

कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन कर ज्ञापन सौंपने केलिए जाते सेना भर्ती के अभ्यर्थी

  • अजमेर, भीलवाडा, राजसंमद, कोटा, बांरा, बूंदी, झालावाड और चित्तौडगढ जिला शामिल
  • 35000 युवाओ ने 2020 में किया आवेदन, फरवरी 2021 में निरस्त कर दी
  • अभ्यर्थियों ने रक्षा मंत्री के नाम ज्ञापन जिला कलेक्टर को सौंपा ज्ञापन

कोटा सेना भर्ती कार्यालय के अधीन आने वाले आठ जिलों की सेना भर्ती निरस्त नहीं करने, भर्ती को यथावत रखने व आयु सीमा में एक साल की छूट देने की मांग को लेकर अभ्यर्थियों ने अजमेर कलेक्ट्रेट पर प्रदर्शन किया। साथ ही केन्द्रीय रक्षा मंत्री के नाम जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा।

रक्षा मंत्री को भेजे ज्ञापन में बताया कि सेना भर्ती कार्यालय कोटा के अन्तर्गत आठ जिले आते है, जिसमें अजमेर, भीलवाडा, राजसंमद, कोटा, बांरा, बूंदी, झालावाड और चित्तौडगढ शामिल है। यहां के 35000 युवाओ ने सेना भर्ती रैली के लिए अगस्त 2020 में आवेदन किया था, जो कि फरवरी, 2021 में निरस्त कर दी गई। साथ् ही नई अधिसूचना जारी की गई है, जो कि सरासर राजस्थान के कोटा सेना कार्यालय के अभ्यर्थियों के प्रति अन्याय है। पिछली भर्ती मई 2019 में आई थी, जिसके बाद जोधपुर और जयपुर सेना भर्ती कार्यालय को छोडकर एक भी भर्ती आयोजित नही की गई।

उसके बाद सरकार ने 19 फरवरी 2021 को अलवर सेना भर्ती कार्यालय की नई अधिसूचना जारी की गई, जिसमें युवाओ को एक साल की छूट नही दी गई। जहां आवेदन 1 अक्टूबर 1999 से सामान्य जनरल डयूटी के लिए आवेदन मांगे जाने थे, वहीं अब एक अक्टूबर 2000 जन्म दिनांक तक वालो के आवेदन मांगे है, जो कि युवा अभ्यर्थी के लिये सरासर अन्याय है।

अभ्यथी करण सिंह खरवा का आरोप है कि स्थान सरकार के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने अपने गृह जिले जोधपुर में भर्ती रैली की अनुमति दे दी, वहीं जयपुर से कर्नल राज्यवर्धन सिंह राठौड सांसद जयपुर ने भी जयपुर के अभ्यर्थियो के लिये अनुमति दिलवा दी और बाकी राजस्थान जिलो के सभी जिलो की भर्ती निरस्त कर दी गई। क्योकि सेना भर्ती की तैयारी करने वाले हम सभी युवा गरीब, मध्यम परिवार से आते है और लगातार दो साल से डिफेंस एकेडमी में रहकर भर्ती रैली की तैयारी कर रहे है। अत: सेना भर्ती रैली में आयु की छूट दी जाए और जो आवेदन लिए गए है, उनको यथावत रखा जाए। साथ ही शीघ्र से शीघ्र भर्ती रैली की दिनांक जारी की जाए।

 

Check Also

24 घंटों के भीतर मिले 18327 नए मरीज: फिर हावी हो रहा कोरोना वायरस

नई दिल्ली: देश में कोरोना वायरस के दैनिक मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ने …