कृषि कानून: जंतर मंतर पर AAP के प्रदर्शन में शामिल हुए CM केजरीवाल, केंद्र पर बरसे

नई दिल्ली: नए किसान कानूनों के खिलाफ विपक्षी पार्टियां मोदी सरकार पर हमलावर है. इस बीच आम आदमी पार्टी (आप) की पंजाब इकाई ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर विरोध-प्रदर्शन का आयोजन किया. इस प्रदर्शन में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी शामिल हुए.

 

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि 2014 में जब बीजेपी वाले वोट मांगने आए थे तब बोले थे कि हम स्वामिनाथन रिपोर्ट लागु करेंगे, MSP 1.5 गुना लागत का देंगे. लेकिन इन्होने चुनाव जीतने के बाद MSP ही खत्म कर दी.

 

उन्होंने कहा, ”वो कहते हैं पूरे देश में सिर्फ 6 फीसदी किसानों की फसल MSP पर खरीदी जाती है, इसका मतलब MSP बंद थोड़े कर दोगे. 6 फीसदी की ही फसल MSP पर खरीद रहे हो तो लानत है तुम्हारी सरकारों पर.”

 

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिहं और अकाली दल नेता सुखबीर सिंह बादल पर निशाना साधते हुए कहा कि राजा और बादल दोनों किसके विरोध का नाटक कर रहे है? खुद के बनाये हुए बिल का? जनता को क्या बेवकूफ समझ रखा है?

 

बता दें कि किसान बिल को मंजूरी मिलने के बाद से ही पंजाब और हरियाणा के कई हिस्सों में किसान प्रदर्शन कर रहे हैं. सत्तारूढ़ कांग्रेस भी इन किसानों का साथ दे रही है. वहीं अकाली दल नेता हरसिमरत कौर बादल भी कृषि कानूनों का विरोध करते हुए कैबिनेट मंत्री के पद से इस्तीफा दे चुकी हैं.

Check Also

शासन-प्रशासन की अनदेखी से परेशान खिलाड़ी खुद कर रहे ग्राउंड में घास की कटाई

खिलाड़ी ही घास हटाने का काम कर रहे हैं। रोज गांधी ग्राउंड में प्रैक्टिस करने …