कटान हुआ शुरू:मरहाणा में टल जाएगा सफेदे के पेड़ों के गिरने का खतरा

 

मरहाणा स्कूल में ढहने के कगार पर पहुंचे पेड़ों का मुआयना करते राजेंद्र गर्ग व अन्य। - Dainik Bhaskar

मरहाणा स्कूल में ढहने के कगार पर पहुंचे पेड़ों का मुआयना करते राजेंद्र गर्ग व अन्य।

  • दो दिन पहले एक पेड़ गिरने से साथ लगते मकान में आ गई थी दरारें

सीनियर सेकंडरी स्कूल मरहाणा के परिसर में लगे दशकों पुराने सफेदे के पेड़ों से संभावित खतरा अब स्थाई रूप से टल जाएगा। गत शुक्रवार रात चले तूफान के दौरान एक पेड़ ढहने से रिहायशी मकान व गाड़ी को हुए नुकसान को गंभीरता से लेते हुए रविवार को खाद्य आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग ने मरहाणा का दौरा किया।

उनके निर्देश पर वन विभाग ने ऐसे आधा दर्जन पेड़ काटने का काम उसी समय शुरू कर दिया, जो गिरने के कगार पर थे। मंत्री ने राजस्व विभाग को पेड़ ढहने से सीताराम के मकान व गाड़ी को हुए नुकसान की रिपोर्ट जल्द बनाकर भेजने को भी कहा, ताकि प्रभावित परिवार को मुआवजा मिल सके। मरहाणा स्कूल परिसर में सफेदे के दशकों पुराने पेड़ों में से कई सूख जाने अथवा एक ओर झुक जाने की वजह से ढहने के कगार पर पहंुच गए हैं। स्थानीय लोग ऐसे पेड़ों को काटने की मांग लंबे समय से कर रहे हैं, लेकिन स्थिति जस की तस ही रही। गत शुक्रवार रात चले तूफान के दौरान एक भारी-भरकम पेड़ स्कूल के साथ लगते सीताराम के मकान पर गिर गया था।

इससे जहां मकान में दरारें आ गई थीं, वहीं पास ही खड़ी बोलेरो जीप को भी नुकसान पहंुचा था। राजस्व विभाग की एक टीम ने गत शनिवार को नुकसान का जायजा लेकर प्रभावित परिवार को 15 हजार रुपये की राशि फौरी राहत के रूप में दी थी। रविवार को खाद्य आपूर्ति मंत्री राजेंद्र गर्ग भी मरहाणा पहंुचे। उन्होंने प्रभावित परिवार के सदस्यों से मुलाकात करने के साथ ही स्कूल परिसर में पेड़ों का मुआयना भी किया। इस दौरान दर्जनों लोगों ने ढहने के कगार पर पहुंचे सफेदे के पेड़ों से संभावित खतरे से मंत्री को अवगत करवाया। उनका कहना था कि स्कूल परिसर के साथ कई रिहायशी मकान होने के साथ ही सड़क भी है। ऐसे में किसी पेड़ के दोबारा अचानक ढह जाने से अप्रिय हादसा पेश आ सकता है। इस पर गर्ग ने वन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन पेड़ों से मकानों अथवा लोगों को खतरा है, उन्हें जल्द से जल्द काट दिया जाए।

उनके निर्देशों पर हरकत में आए महकमे ने आधा दर्जन पेड़ों को काटने का काम भी शुरू कर दिया। राजेंद्र गर्ग ने लोगों की मांग पर सड़क की मरम्मत करवाने और डंगों का निर्माण करवाने का आश्वासन भी दिया। इस मौके पर एसडीएम राजीव ठाकुर, नायब तहसीलदार कर्मचंद, जिला भाजपा महासचिव नवीन शर्मा, जिप सदस्य मदन धीमान, पंचायत प्रधान जगतराम व पूर्व प्रधान पृथ्वीचंद समेत कई लोग तथा अधिकारी व कर्मचारी भी मौजूद थे।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

ओडिशा CM पटनायक की लोगों से अपील-कोरोना नियमों को मानें

भुवनेश्वर:  ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर के बारे …