ऑनलाइन क्रिकेट सिखाएंगे सचिन तेंदुलकर:मास्टर ब्लास्टर ने अनएकेडमी में हिस्सेदारी खरीदी, लाइव इंटरेक्टिव क्लास में भी शामिल होंगे

अनएकेडमी के को-फाउंडर गौरम मुंजाल (सबसे बाएं) के साथ पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर। फोटो-सोशल मीडिया। - Dainik Bhaskar

अनएकेडमी के को-फाउंडर गौरम मुंजाल (सबसे बाएं) के साथ पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर। फोटो-सोशल मीडिया।

  • हिस्सेदारी खरीदने को लेकर सचिन और अनएकेडमी में हुआ समझौता
  • ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म के ब्रांड अंबेसडर भी बनेंगे सचिन

मास्टर ब्लास्टर के नाम से मशहूर पूर्व क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर अब ऑनलाइन क्रिकेट सिखाने जा रहे हैं। हां, चौंकिंए मत, यह खबर सही है। सचिन तेंदुलकर जल्द ही ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म की इंटरेक्टिव क्लास की एक सीरिज में शामिल होंगे। इसमें सचिन अपने अनुभव शेयर करेंगे और क्रिकेट से जुड़ी बारीकियां बताएंगे।

क्या है पूरा मामला?

दरअसल, सचिन तेंदुलकर ने ऑनलाइन एजुकेशन प्लेटफॉर्म अनएकेडमी में छोटी हिस्सेदारी खरीदी है। इसको लेकर अनएकेडमी और सचिन तेंदुलकर के बीच समझौता भी हो गया है। इस समझौते के तहत मास्टर ब्लास्टर अनएकेडमी के ब्रांड अंबेसडर बनेंगे। साथ ही इस प्लेटफॉर्म पर आने वाली लाइव इंटरेक्टिव क्लास में भी शामिल होंगे। कंपनी का कहना है कि इस लाइव क्लास को कोई भी व्यक्ति अनएकेडमी के प्लेटफॉर्म के जरिए मुफ्त में एक्सेस यानी देख सकता है।

कई महीनों से अनएकेडमी से जुड़ना चाह रहे थे सचिन

सचिन तेंदुलकर ने कई महीने पहले अनएकेडमी के बोर्ड में स्ट्रेटेजिक इन्वेस्टर और ब्रांड अंबेसडर के तौर पर जुड़ने का फैसला किया था। अनएकेडमी ग्रुप के को-फाउंडर और CEO गौरव मुंजाल ने सोमवार को यह जानकारी दी। मुंजाल का कहना, कंपनी ने करीब 7 महीने पहले तेंदुलकर के साथ विचार-विमर्श शुरू किया था। मुंजाल के मुताबिक, सचिन के बोर्ड में शामिल होने से हमें अपने लक्ष्य को हासिल करने में मदद मिलेगी।

डीप कंटेंट डेवलप करने के लिए भी साझेदारी

कंपनी का कहना है कि सचिन तेंदुलकर डीप-कंटेंट डेवलप करने के लिए अनएकेडमी के साथ साझेदार के तौर पर काम करेंगे। मुंजाल ने कहा कि हमारे प्लेटफॉर्म से करीब 47 हजार शिक्षक जुड़े हुए हैं। अनएकेडमी का वॉच टाइम करीब 100 करोड़ मिनट प्रति माह है। हालांकि, सचिन या अनएकेडमी ने निवेश की राशि की जानकारी नहीं दी है।

युवराज सिंह भी वेलवर्स्ड से जुड़े हैं

पूर्व क्रिकेटर युवराज सिंह भी कुछ महीने पहले न्यूट्रीशन प्रोडक्ट स्टार्टअप वेलवर्स्ड (Wellversed) से जुड़े हैं। युवराज कंपनी के सबसे बड़े निवेशक भी बन गए हैं। हालांकि, उन्होंने निवेश राशि का खुलासा नहीं किया है। युवराज सिंह वेलवर्स्ड के ब्रैंड एंबेसडर भी बन गए हैं। वेलवर्स्ड 2018 में स्थापित एक स्टार्टअप है। वेलवर्स्ड के पास न सिर्फ एथलीट के लिए न्यूट्रीशन प्रोडक्ट हैं, बल्कि फिटनेस चाहने वाले लोगों के हिसाब से भी उत्पाद उपलब्ध हैं।

 

Check Also

Petrol Diesel Rate: लगातार 10वें दिन राहत, जानें- क्या है आपके शहर में पेट्रोल-डीजल के रेट

पेट्रोल और डीजल की कीमतें का असर हमारी जरूरत की हर चीजों पर पड़ता है. …