एकनाथ खड़से को चाहिए कृषि मंत्रालय, राकांपा से हुई डील; जोरों पर है BJP से इस्तीफे की चर्चा

मुंबई: भाजपा के कद्दावर नेता एकनाथ खड़से का राकांपा में प्रवेश पक्का माना जा रहा है. हालांकि देरी की एक बड़ी वजह सामने आ रही है, वह यह कि वे न सिर्फ मंत्रिमंडल में स्थान मांग रहे हैं बल्कि कृषि विभाग चाहते हैं, जो इस समय शिवसेना के पास है. समझा जाता है कि खड़से ने इस्तीफा दे दिया है. हालांकि पार्टी प्रदेशाध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने इससे इनकार किया है.

उन्होंने कहा कि अब तक उनके पास इस्तीफा नहीं आया है. साथ ही भरोसा जताया कि खड़से ऐसा कोई कदम नहीं उठाएंगे. खबरों के मुताबिक खड़से 21 अक्तूबर को मुंबई आ रहे हैं. समझा जाता है कि खड़से कृषि विभाग नहीं मिलने की स्थिति में अन्य विभाग पर भी विचार कर रहे हैं. उनके साथ उनकी बेटी रोहिणी भी राकांपा का दामन थामेंगी.

राकांपा के बड़े नेता जयंत पाटिल, अजित पवार और नवाब मलिक हालांकि खड़से के प्रवेश को लेकर कुछ नहीं बोल रहे हैं. लेकिन कहा जा रहा है कि सहमति बन चुकी है, सिर्फ औपचारिक घोषणा बाकी है. तीनों ने मीडिया को नपा-तुला बयान दिया है. पाटिल ने कहा कि उन्हें इस बारे में पता नहीं है. मलिक का कहना है कि खड़से के पार्टी प्रवेश की तारीख निश्चित नहीं हुई है. पवार ने भी कहा कि वे इस बारे में कुछ नहीं बता पाएंगे.

शिवसेना में जाने के लिए नहीं हैं तैयार यह चर्चा चल रही है कि खड़से को कृषि विभाग चाहिए तो उन्हें राकांपा के बजाय शिवसेना में प्रवेश करना चाहिए. इस तरह का संदेश उन्हें भिजवाया गया है. हालांकि खड़से इसके लिए तैयार नहीं हैं. वे मुक्ताईनगर निर्वाचन क्षेत्र में अपनी जगह भी पक्की करना चाहते हैं.

पूर्व शिवसेना विधायक 22 को आएंगे राकांपा में पता चला है कि धुलिया ग्रामीण के पूर्व शिवसेना विधायक प्रा. शरद पाटिल 22 अक्तूबर को मुंबई में राकांपा में प्रवेश करेंगे. इस मौके पर अजित पवार और जयंत पाटिल मौजूद रहेंगे.

Check Also

CM केजरीवाल 29 अक्टूबर को ग्रीन दिल्ली एप लांच करेंगे, प्रदूषण से जुड़ी शिकायतों का निपटारा किया जाएगा

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने इस एप की लांचिग को लेकर विभिन्न विभागों …