इंदिरा गांधी की मामी के घर में शिफ्ट होंगी प्रियंका, लखनऊ के इस घर में जनवरी से चल रहा मरम्मत का काम पूरा

 

लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा अब यूपी में अपना राजनीतिक बेस कैंप बनाएंगी। प्रियंका के करीबी सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की है। प्रियंका जल्द ही लखनऊ के हजरतगंज में गोखले मार्ग स्थित घर में रहने आएंगी। यह घर इंदिरा गांधी की मामी शीला कौल का है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री शीला कौल प्रसिद्ध वनस्पति वैज्ञानिक प्रोफेसर कैलाश नाथ कौल की पत्नी थीं। सालों से गोखले मार्ग पर स्थित कौल का बंगला बंद पड़ा है।

जवाहर लाल नेहरू ने लगाया था शीला के बंगले में पौधा

न्यूज एजेंसी एएनआई ने भी सूत्रों के हवाले से बताया कि जनवरी से ही घर की मरम्मत का काम चल रहा था। कोरोना संक्रमण के चलते काम कुछ वक्त के लिए रोकना भी पड़ा था। हालांकि, अभी यह जानकारी नहीं दी गई है कि प्रियंका लखनऊ कब शिफ्ट होंगी। लोकसभा चुनाव के दौरान प्रियंका को पूर्वी उत्तर प्रदेश की जिम्मेदारी दी गई है। प्रियंका अपने पिछले तीन लखनऊ दौरों पर इसी घर में रुकी थीं।

कौल के इस घर में पूर्व पीएम जवाहर लाल नेहरू द्वारा लगाया गया पौधा भी मौजूद है। इस घर में महात्मा गांधी भी कई बार आए थे।

एक महीने में खाली करना है दिल्ली का घर

दिल्ली के लुटियन जोन स्थित लोदी एस्टेट के सरकारी बंगले को वापस लेने का पत्र केंद्र सरकार ने प्रियंका गांधी को भेजा है। केंद्र सरकार का कहना है कि एसपीजी सिक्योरिटी मिलने की वजह से ही उनको यह बंगला अलॉट किया गया था, लेकिन अब एसपीजी सुरक्षा वापस ले ली गई है। लिहाजा, उनको यह बंगला एक महीने के भीतर खाली करना होगा। पूर्व पीएम राजीव गांधी की हत्या के बाद प्रियंका को यह बंगला अलाॅट किया गया था।

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी विधानसभा चुनाव के बाद से ही यूपी में काफी सक्रिय हैं।

कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी विधानसभा चुनाव के बाद से ही यूपी में काफी सक्रिय हैं।

यूपी की राजनीति में सक्रिय हैं प्रियंका
कोरोना संकट की शुरुआत होने के बाद कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अपने पत्रों, ट्वीट और सोशल मीडिया पोस्ट के जरिए योगी सरकार के सामने सवाल उठाए थे। 1000 बसों के विवाद में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को जेल भेजने के बाद से प्रियंका यूपी की राजनीति में और सक्रिय हो गईं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पहले भी कर चुके हैं मांग
पार्टी के वरिष्ठ नेता पहले भी प्रियंका को उत्तर प्रदेश की राजनीति में सक्रिय भूमिका निभाने का समर्थन कर चुके हैं। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि हर कांग्रेसी का यही मानना है कि प्रियंका को लखनऊ आकर मोर्चा संभालना चाहिए, हालांकि आखिरी फैसला उन्हें ही लेना है। एक और वरिष्ठ कांग्रेस लीडर पीएल पुनिया ने भी प्रियंका के लखनऊ शिफ्ट होने का समर्थन किया है।

Check Also

कानपुर जैसी घटनाः चोर को पकड़ने गई पुलिस टीम पर हमला; छीन ली दारोगा की पिस्टल, बुरी तरह पीटा

उत्तर प्रदेश के कौशांबी जिले में चोर को पकड़ने के लिए दबिश देने गई पुलिस …