इंडियन इनोवेशन:पेप्सिको ने मेंटरिंग के लिए दुनिया भर से चुनी 10 इनोवेटिव कंपनियां, लिस्ट में है इंडियन कंपनी बायोसस्टेन का भी नाम

पेप्सिको ने अपने मेंटरिंग प्रोग्राम के लिए दुनिया भर से 10 इनोवेटिव कंपनियों का चुनाव किया है, जिनमें से एक कंपनी इंडिया की है। दिग्गज फूड और बेवरेजेज कंपनी पेप्सिको ने मंगलवार को इन 10 ग्लोबल इमर्जिंग इनोवेटिव कंपनियों की लिस्ट जारी की। पेप्सिको अपने पांचवें ‘ग्रीनहाउस एक्सेलेटर’ प्रोग्राम के अंदर कर्नाटक की बायोसस्टेन सहित दसों कंपनियों को मेंटरिंग सपोर्ट देगी। हरेक को बीस हजार डॉलर का अनुदान भी मिलेगा।

कर्नाटक के कोडागू की है बायोसस्टेन लैब्सतैयार करती है टिकाऊ स्वास्थकर खाद्य उत्पाद

पेप्सिको की लिस्ट में शामिल अकेली भारतीय कंपनी बायोसस्टेन लैब्स कर्नाटक के कोडागू (कूर्ग) जिले की है। यह कंपनी खास तरह के स्वास्थकर खूबियां ढूंढने वाले उपभोक्ताओं के लिए टिकाऊ खाद्य उत्पाद तैयार करती है। पेप्सिको ने इसके अलावा अपनी लिस्ट में यूरोप की पांच और अमेरिका की चार कंपनियों को शामिल किया है।

बीस हजार डॉलर का अनुदानग्रोथ में तेजी लाने के लिए छह महीने पर्सनलाइज्ड मेंटरिंग

पेप्सिको ने अपने बयान में कहा कि प्रोग्राम के लिए चुनी गई हरेक कंपनी को बीस हजार डॉलर का अनुदान मिलेगा। उनकी ग्रोथ में तेजी लाने के लिए पर्सनलाइज्ड मेंटरिंग का छह महीने का बिजनेस प्रोग्राम शुरू किया जाएगा। इन इनोवेटर कंपनियों को पेप्सिको के रिसर्च एंड डेवलपमेंट, सप्लाई चेन और डिजाइन सहित कई फंक्शन के एक्सपर्ट पर्सनलाइज्ड मेंटरिंग सपोर्ट देंगे।

बिजनेस मॉडल तैयार करने और बाजार तक पहुंच बनाने की रणनीति तैयार करने की मदद

पेप्सिको के मेंटर कंपनियों की कारोबारी चुनौतियों को दूर करने के लिए उनके साथ सहयोग करेंगे। वे इनोवेटर्स को ठोस बिजनेस मॉडल तैयार करने, टेक्नोलॉजी को विस्तार देने और बाजार तक पहुंच बनाने की रणनीति तैयार करने की मदद करेंगे। पेप्सिको ने कहा कि इनमें से एक कंपनी को ग्रोथ जारी रखने के लिए जून में एक लाख डॉलर का एडिशनल फंड भी दिया जाएगा।

हेल्दी लाइफस्टाइल के लिए प्रॉडक्ट या सर्विस डेवलप करने की क्षमता के आधार पर चुनाव

पेप्सिको के मेंटरिंग प्रोग्राम के लिए 10 कंपनियों का चुनाव उसके अपने लीडर्स की एक कमेटी ने किया है। उसने इन कंपनियों को ग्लोबल लेवल पर हेल्दी लाइफस्टाइल को बढ़ावा देने वाले इनग्रेडिएंट, प्रॉडक्ट या सर्विस डेवलप करने की इनकी क्षमता के आधार पर चुना है।

पर्सनलाइजेशनइमर्जिंग टेक्नोलॉजीयूनीक सर्विस से कारोबार के नियम बदल रहे इनोवेटर

पेप्सिको वेंचर्स ग्रुप के एमडी डैनियल ग्रब्स ने इस मौके पर कहा, ‘अत्याधुनिक साइंस एंड टेक्नोलॉजी सहित नए क्षेत्रों में ग्रीनहाउस एक्सीलेटर प्रोग्राम को ले जाने पर हम बहुत उत्साहित हैं। हम इन दसों कंपनियों के साथ करीब से काम करने को लेकर उत्सुक हैं। हमें इस ग्रुप से बहुत कुछ सीखना है, जो पर्सनलाइजेशन, इमर्जिंग टेक्नोलॉजी और यूनीक सर्विस से कारोबार के नियम बदल रहा है।’

Check Also

China में सभी के लिए कोरोना को लेकर एक जैसे नियम

बीजिंग, 26 जनवरी । आजकल पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी की चपेट में है। वैक्सीन …