इंग्लैंड दौरे को लेकर पीसीबी ने कहा- इस बात को लेकर नहीं हुई है कोई डील

कोरोना वायरस की वजह से करीब तीन महीने से इंटरनेशनल क्रिकेट नहीं खेला जा रहा है. हालांकि पाकिस्तान के जुलाई में इंग्लैंड के दौरे को हरी झंडी देने से क्रिकेट के दोबारा शुरू होने की उम्मीद जागी है. हालांकि पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के चीफ वसीम खान ने उन खबरों का खंडन किया है जिनमें इस सीरीज के बदले इंग्लैंड के पाकिस्तान दौरे पर आने की अपील का दावा किया गया.

 

पीसीबी ने जुलाई में तीन मैचों की टेस्ट सीरीज और इतने ही मैचों की टी-20 सीरीज के लिए इंग्लैंड दौरे को मंजूरी दे दी है. वसीम ने कहा, “अभी से लेकर 2022 तक काफी क्रिकेट खेली जानी है. मैंने यह सवाल कई बार उठाया है कि क्या कोई साफ डील है? क्या कुछ होने वाला है.”

 

उन्होंने कहा, “लेकिन एक साफ सच्चाई यह है और यह काफी स्वाभाविक है. हमें वापस क्रिकेट पर आना है और अभी का समय ऐसा समय नहीं है की चीजों का लाभ उठाने की कोशिश की जाए. अगले दो साल में चीजें स्वाभाविक रूप से अपना समय लेंगी.”

 

खान ने साथ ही मौजूदा एफटीपी के मुताबिक अगले कुछ वर्षों में पाकिस्तान आने वाली बड़ी टीमों का जिक्र भी किया. लेकिन उन्होंने कहा कि उनका पूरा फोकस इस समय खेल को सामान्य स्तर पर शुरू करने पर है जो कोरोनावायरस के कारण रुका पड़ा है.

 

उन्होंने कहा, “अभी से लेकर बाद तक हमारे पास कुछ घरेलू सीरीज हैं, जो उम्मीद है कि सफलतापूर्वक होंगी. हम आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड जैसी टीमों को भरोसा दिलाएंगे जिन्हें 2022 में हमारा दौरा करना है.

 

वसीम ने कहा, “लेकिन यह क्रिकेट को वापस लाने की बात है. क्रिकेटर खेलना चाहते हैं और मुझे लगता है कि वैश्विक स्तर पर भी यह खेल के लिए जरूरी है कि वह सामान्य स्तर पर वापस लौटे.”

Check Also

रोहित शर्मा और विराट कोहली, आज के युग की सबसे बेहतरीन जोड़ी: कुमार संगकारा

श्रीलंका के पूर्व कप्तान, लेजेंड्री बल्लेबाज विकेटकीपर और मेरिलबोन क्रिकेट क्लब के अध्यक्ष कुमार संगकारा …