आतंकी हमले के दौरान अपने रिश्तेदार के सीने पर बैठा रहा 3 साल का बच्चा, सेना के जवान ने बचाया

जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले के सोपोर में बुधवार सुबह आतंकियों ने सीआरपीएफ पार्टी पर हमला कर दिया. आतंकवादियों ने सीआरपीएफ पर ताबड़तोड़ गोलीबारी कर दी. इस दौरान सेना के जवान ने एक तीन साल के बच्चे की जान बचाई. बच्चा बिना खौफ के घटना स्थल पर मौजूद था. बच्चे के रिश्तेदार की गोली लगने से मौत हो गई थी. बच्चा अपने उस रिश्तेदार की बॉडी पर गुमसुम बैठा हुआ था. सेना के जवान ने तुरंत बच्चे को वहां से हटाया और सुरक्षित स्थान पर पहुंचा दिया.

 

 

इस आतंकी हमले में एक सीआरपीएफ हेड कांस्टेबल भी शहीद हो गए हैं. घायल सीआरपीएफ जवानों को श्रीनगर के सेना के 92 बेस अस्पताल में भर्ती कराया गया है. क्षेत्र की घेराबंदी कर आतंकवादियों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान चलाई जा रही है.

 

बीते तीन महीनों में सोपोर में सीआरपीएफ पर यह दूसरा हमला है. इससे पहले 18 अप्रैल को आतंकवादियों ने सीआरपीएफ दल पर गोलीबारी की थी, जिसमें सीआरपीएफ के तीन जवान मारे गए.

 

पिछले 20 दिनों में 36 आतंकी ढेर
जम्मू कश्मीर में जारी आतंकी विरोधी अभियानों में इस साल अब तक सुरक्षाबलों ने 110 से अधिक आतंकियों को मार गिराया है. पिछले करीब बीस दिनों में सुरक्षाबलों ने करीब 36 आतंकियों को ढेर किया है. जम्मू-कश्मीर पुलिस के महानिदेशक दिलबाग सिंह ने कहा कि ये आतंकवादी लश्कर-ए-तैयबा, जैश-ए-मोहम्मद और हिजबुल मुजाहिदीन से जुड़े थे. वे अब हताश हो कर निर्दोष लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं.

Check Also

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग के परीक्षा कराने संबधी आदेश का भारी विरोध, कोर्ट जाएंगे छात्र

  इंदौर. विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (यूजीसी) के फाइनल ईयर की परीक्षा अनिवार्य करवाने संबंधी आदेश …