आज से 15 जून तक कब, कहां और कितनी होगी बारिश, IMD ने जारी किया अनुमान, पढ़ें अपने राज्य का अपडेट

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने शुक्रवार को कहा है कि बंगाल की खाड़ी और उससे सटे ओडिशा और पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में कम दबाव का क्षेत्र बन गया है. इससे पूर्वी भारत और मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों में कहीं-कहीं भारी तो कहीं बहुत भारी बारिश देखने को मिल सकती है. आईएमडी ने कहा है कि अगले 24 घंटों के दौरान कम दबाव के क्षेत्र के पूरे ओडिशा और पश्चिम-उत्तर-पूर्व की ओर बढ़ने की संभावना है.

इस बीच अगले 24 घंटे के दौरान गुजरात, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ और ओडिशा, पूरे पश्चिम बंगाल, झारखंड और बिहार के कुछ हिस्सों के साथ ही पूर्वी उत्तर प्रदेश बंगाल की खाड़ी के अन्य हिसों में दक्षिण पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल हैं. पश्चिमी तट के साथ हवाओं की तेजी के चलते 11 से 15 जून के दौरान महाराष्ट्र के तटीय इलाकों में भारी बारिश होने की संभावना है. 12 से 15 जून के बीच तटीय कर्नाटक में बारिश हो सकती है.

उत्तर पश्चिम भारत में बारिश

12 से 15 जून 2021 के दौरान कोंकण में भी अत्यधिक भारी वर्षा होने की संभावना है. मौसम पूर्वानुमान एजेंसी ने आगे कहा कि कम दबाव वाले क्षेत्र के पश्चिम-उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने के चलते उत्तर-पश्चिम भारत (राजस्थान को छोड़कर) में 12 से 14 जून के दौरान भारी से अत्यधिक भारी बारिश हो सकती है.

उत्तराखंड और यूपी में बारिश का अलर्ट

12 जून को उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश में भी भारी बारिश होने की संभावना है. मानसून की शुरुआत से पहले, अगले 24 घंटों के दौरान मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, छत्तीसगढ़, ओडिशा, बंगाल, झारखंड और बिहार में लगातार बादल छाए रहने और बिजली और गरज के साथ बौछार पड़ने की संभावना भी जताई गई है. आज उत्तर पश्चिमी राजस्थान के अलग-अलग हिस्सों में लू चलने की संभावना है.

Check Also

कर्नाटक में कोरोना से कमाऊ सदस्‍य को खोने वाले BPL परिवारों को दी जाएगी एक लाख रुपए की आर्थिक मदद

  कर्नाटक के मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा (BS Yediyurappa) ने गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन …