आज का राशिफल 17 मार्च 2021, Aaj Ka Rashifal 17 March 2021

शुक्र के मीन राशि में इस गोचर से विभिन्न राशि वालों पर अलग-अलग प्रभाव होगा। शुक्र आपके जन्मपत्रिका में किस स्थान पर गोचर करेगा और उस स्थिति में क्या उपाय करने चाहिए। जानिए आचार्य इंदु प्रकाश से।

 

मेष राशि

शुक्र का यह गोचर आपके बारहवें घर में होगा। शुक्र के इस गोचर से कविता लेखन में आपकी रुचि बढ़ेगी। परिवार और संतान का सुख मिलेगा। साथ ही जीवनसाथी से सहयोग मिलेगा। इस दौरान किसी और से मदद की अपेक्षा न रखें और अपनी सेहत का ख्याल रखें। शुक्र की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिये घर की महिला अपने हाथों से, घर से दूर कहीं विराने में घर की धूल दबाएं।

वृष राशि 
शुक्र आपके ग्यारहवें स्थान पर गोचर करेगा। शुक्र के इस गोचर से 10 अप्रैल तक आपके स्वभाव में बार-बार बदलाव आ सकते हैं। इस दौरान आप दूसरों से छिपाकर काम करने की कोशिश करेंगे। इस बीच आपको अथाह धन लाभ होगा | लिहाजा शुक्र की शुभ स्थिति बनाये रखने के लिये मन्दिर में इत्र का दान करें या रूमाल में हल्की-सी परफ्यूम की खुशबू लगाकर अपने पास रखे।

 

 

मिथुन राशि 
शुक्र का यह गोचर आपके दसवें स्थान पर होगा। शुक्र के इस गोचर से 10 अप्रैल तक आपका समय बहुत अच्छा बीतेगा। आपको वाहन सुख मिलेगा और धर्म-कर्म के कार्यों में आपकी रुचि बढ़ेगी। साथ ही पैसों के प्रति आपका आकर्षण बढ़ेगा। इस दौरान अपने जीवनसाथी के साथ नरमी बरते | 10 परिल तक शुक्र की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिये मन्दिर में दही का दान करें और संभव हो तो दही या दही से बनी चीज़ें खाएं।

कर्क राशि 
शुक्र आपके नवें स्थान पर गोचर करेगा। शुक्र के इस गोचर से आपकी किस्मत आपका पूरा साथ देगी। आपकी बौद्धिक क्षमता में वृद्धि होगी। आपके मनचाहे कार्य पूरे होंगे | साथ ही आर्थिक स्थिति और बेहतर होगी | लेकिन मेहनत जारी रखें और व्यर्थ के कामों में पैसे खर्च करने से बचें। इस दौरान शुक्र के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये  मिट्टी के नीचे एक बर्तन में शहद भरकर दबाएं।

 

 

सिंह राशि 
शुक्र का यह गोचर आपके आठवें घर में होगा। शुक्र के इस गोचर से आप दूसरों से कही अपनी बात का मान रखेंगे और अपना वायदा पूरा करेंगे। साथ ही इस बीच अपने जीवनसाथी की सेहत का ख्याल रखें। जीवनसाथी का स्वभाव आपके प्रति कुछ सख्त हो सकता है। लिहाजा इस दौरान उनकी हां में हां मिलाना ही आपके लिये फायदेमंद होगा। 10 अप्रैल तक शुक्र की अशुभ स्थिति से बचने के लिये प्रतिदिन मंदिर में सिर झुकाएं और ज्वार का दान करें।

कन्या राशि 
शुक्र का यह गोचर आपके सातवें खाने में होगा। शुक्र के इस गोचर के प्रभाव से 10 अप्रैल तक आपको कई महत्वपूर्ण यात्राएं करनी पड़ सकती हैं। ब्यूटी प्रोडेक्ट के काम या ग्लैमर की दुनिया से जुड़े लोगों को फायदा मिलेगा। इस दौरान अपनी संतान की पढ़ाई का ख्याल रखने की जरूरत है। शुक्र की अशुभ स्थिति से बचने के लिये रोज़ सुबह उठकर माता-पिता का आशीर्वाद लें।

 

तुला राशि 
शुक्र आपके छठे घर में गोचर करेगा। शुक्र के इस गोचर से आपके जीवन की गति ठीक बनी रहेगी। आपको धन लाभ होगा और आपके भाईयों की तरक्की होगी। लेकिन सन्तान पक्ष से अधिक सुख की आशा न रखें | इस दौरान पहले एक काम को पूरी तरह से खत्म कर लेने के बाद ही दूसरा काम शुरू करें। 10 अप्रैल तक शुक्र के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये घर की महिला अपने बालों में सोने का या गोल्डनकलर का हेयर क्लिप लगाकर रखें।

वृश्चिक राशि 
शुक्र का यह गोचर आपके पांचवें खाने में होगा। शुक्र के इसगोचर से धर्म के प्रति आपकी आस्था बढ़ेगी और परिवार के प्रति प्यार बढ़ेगा। इसके अलावा आपके धन में वृद्धि होगी और आपके शत्रुओं की गिनती में कमी आयेगी। लेकिन प्रेम के प्रति दिवानापन आपके भाग्य को पतंग के जैसे उडाकर ले जायेगा। 10 अप्रैल तक शुक्र के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये- मन्दिर या किसी धर्मस्थल पर दूध का दान करें।

 

धनु राशि 
शुक्र आपके चौथे स्थान पर गोचर करेगा। शुक्र के इस गोचर सेआपको आर्थिक तंगी से मुक्ति मिलेगी और मस्तमौला लोगों से आपकी दोस्ती बढ़ेगी। इस दौरान अपने जीवनसाथी का सम्मान करें | लिहाजा 10 अप्रैल तक शुक्र की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिये एक डिब्बी में थोड़ा-सा काला सुरमा भरकर जमीन में दबा दें।

मकर राशि 
शुक्र आपके तीसरे स्थान पर गोचर करेगा। शुक्र के इस गोचर से आपको माता-पिता से सुख और सहयोग मिलेगा। विपरित व्यवहार के लोगों केप्रति आकर्षण बढ़ेगा और अपनों से ज्यादा अन्य लोगों से आपको मदद मिलेगी।इस दौरान आपके दिमाग में नये नये प्लान बनेगे | मेहनत जारी रखने से आपके काम पूर्ण रूप से बनेंगे। 10 अप्रैल तक शुक्र के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये  देर रात तक जागने से बचें। साथ ही प्रत्येक स्त्री का सम्मान करें।

 

कुंभ राशि 
शुक्र आपके दूसरे स्थान पर गोचर करेगा। शुक्र के इस गोचर से आजिविका में वृद्धि होगी, जिससे आपकी आर्थिक स्थिति मजबूत होगी और सांसारिक सुखों की प्राप्ति होगी। साथ ही शत्रुओं से पीछा छुटेगा। इस दौरान पशुपालन और कच्ची मिट्टी के काम से जुड़े लोगों को दुगना फायदा होगा। लिहाजा 10 अप्रैल तक शुक्र के शुभ फल सुनिश्चित करने के लिये दो सौ ग्राम गाय का घी मन्दिर में दान करें।

मीन राशि 
शुक्र का यह गोचर आपके पहले स्थान पर, यानी लग्न स्थान पर होगा। शुक्र के इस गोचर से आपको संतान का सुख मिलेगा। अगर आपका विवाह अभी तक नहीं हुआ है तो जल्द ही आपके लिये विवाह के प्रस्ताव आयेंगे। आपको धन, वाहन आदि का सुख मिलेगा। हालांकि इस दौरान अपने जीवनसाथी की सेहत का ख्याल रखने की जरूरत है। उनसे प्रेम बनाकर रखें। शुक्र की शुभ स्थिति सुनिश्चित करने के लिये  सतनाज का दान करें, साथ ही काली गाय की सेवा करें।

Check Also

पितृ पक्ष 2021: जानिए स्वर्ग और नरक से अलग उस जगह के बारे में जहां पितर रहते हैं?

हिंदू धर्म में पितृपक्ष का विशेष महत्व है. पितृ पक्ष के दौरान पितरों की आत्मा …