असम-पश्चिम बंगाल के दौरे पर PM:एक महीने में तीसरी बार बंगाल पहुंचे मोदी; कार्यक्रम से ममता बनर्जी ने किया किनारा

प्रधानमंत्री असम में रैली करने के बाद पश्चिम बंगाल के हुगली पहुंचे हैं। यहां उन्होंने विकास के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा करने पर जोर दिया। - Dainik Bhaskar

प्रधानमंत्री असम में रैली करने के बाद पश्चिम बंगाल के हुगली पहुंचे हैं। यहां उन्होंने विकास के लिए इन्फ्रास्ट्रक्चर खड़ा करने पर जोर दिया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को असम के बाद पश्चिम बंगाल पहुंचे। हुगली वे कई रेलवे प्रोजेक्ट्स का उद्घाटन करने पहुंचे हैं। हालांकि, बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कार्यक्रम से दूरी बना ली। मोदी का एक महीने के अंदर बंगाल का ये तीसरा दौरा है। यहां इसी साल अप्रैल-मई में विधानसभा चुनाव होने हैं।

हुगली की सभा में मोदी के भाषण के प्रमुख अंश

  • आप लोगों की यह उमंग ऊर्जा कोलकाता से दिल्ली तक बहुत बड़ा संदेश दे रहा है। अब पश्चिम बंगाल पोरिवर्तन (बदलाव) का मन बना चुका है। आज इस वीर धरा से पश्चिम बंगाल अपने विकास के संकल्प को सिद्ध करने के लिए बड़ा कदम उठा रहा है।
  • थोड़ी देर में हुगली की पश्चिम बंगाल की रेल और मेट्रो कनेक्टिविटी के प्रोजेक्ट का शिलान्यास और लोकार्पण होना है। इन महत्वपूर्ण योजनाओं के लिए, बंगाल के उज्जवल भविष्य के लिए बहुत बधाई देता हूं।
  • दुनिया में जितने देश गरीबी से बाहर आए या गरीबी मिटाने में कामयाब रहे, या विकसित बने सभी में एक बात कॉमन है। इन देशों ने अपने यहां सही समय पर बड़ी संख्या में इन्फ्रास्ट्रक्चर का निर्माण किया। आधुनिक हाइवे, रेलवे, एयरवे ने इन देशों को इन्हें आगे बढ़ाने में मदद की। ये एक प्रकार से परिवर्तन का बहुत बड़ा कारण बना। हमारे यहां भी यही काम दशकों पहले होना चाहिए था लेकिन हुआ नहीं।
  • अब हमें देर नहीं करनी है। एक पल भी गंवाना नहीं है। अब इंफ्रास्ट्रक्चर पर अभूतपूर्व जोर दिया जा रहा है। बीते साल में हाइवे, रेलवे, एयरवे, वाटरवे हर तरह की कनेक्टिविटी पर फोकस किया गया। बंगाल में हजारों करोड़ रुपए निवेश किए गए। रेल लाइनों के चौड़ीकरण और बिजलीकरण का काम तेज गति से किया जा रहा है।
  • रेलवे को लेकर बंगाल में संभावनाओं के नए द्वार खुल रहे हैं। पूर्वी फ्रेड कॉरिडोर का बड़ा लाभ बंगाल को होने वाला है। इसका एक हिस्सा चालू भी हो चुका है। बहुत जल्द पूरा कॉरिडोर खुल जाएगा।
  • विशेष किसान रेल का लाभ बंगाल के किसानों को मिल रहा है। हाल में 100 वीं किसान रेल महाराष्ट्र से बंगाल तक चलाई गई। इससे यहां के फल, दूध, मछली से जुड़े किसानों को मुंबई, पुणे समेत देश के बड़े बाजारों तक सीधी पहुंच मिली है।
  • आज हावड़ा हुगली के लाखों स्टूडेंट्स श्रमिकों के लिए बहुत बड़ा दिन है। मेट्रो का दक्षिणेश्वर तक विस्तार होने से हजारों यात्रियों को सुविधा होने वाली है। अब कोलकाता आने जाने के लिए तेज पब्लिक ट्रांसपोर्ट मिल गया है। चंद्रनगर सहित ये पूरा क्षेत्र भारत की आजादी संस्कृति और ज्ञान विज्ञान का द्वीप है।
  • इस धरती से महर्षि अरविंदों, रास बिहारी बोस समेत अनगिनत महान व्यक्तियों का नाता है।

हुगली में ही रैली क्यों?
हुगली में प्रधानमंत्री की रैली के पीछे कई वजहें हैं। सबसे बड़ी वजह यह है कि हुगली में पिछले लोकसभा चुनाव में भाजपा ने अच्छा प्रदर्शन किया था। 2019 के लोकसभा चुनाव में हुगली से भाजपा की लॉकेट चटर्जी ने जीत दर्ज की थी। ऐसे में इस जीत को बरकरार रखने की कोशिश में मोदी की जनसभा यहां रखी गई है।

दो दिन बाद ममता की रैली
इस मैदान का अपना इतिहास है। यह इलाका एक समय में एशिया की सबसे बड़ी टायर फैक्ट्री रही डनलप का है, लेकिन डनलप फैक्ट्री को बंद हुए सालों हो चुके हैं। ऐसे में यहां के लोगों को मोदी से कुछ घोषणाओं की उम्मीद है। प्रधानमंत्री की रैली के 2 दिन बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की जनसभा भी इसी मैदान में होने वाली है।

बंगाल में इन प्रोजेक्ट्स को हरी झंडी

  • नोआपाड़ा और दक्षिणेश्वर के बीच मेट्रो सर्विस का उद्घाटन और हरी झंडी दिखाकर पहली ट्रेन की रवानगी। करीब 4.1 किमी लंबे ट्रैक के निर्माण पर 464 करोड़ रुपए की लागत आई है।
  • दक्षिण-पूर्व रेलवे के 132 किमी लंबे खड़गपुर-आदित्यपुर तीसरी लाइन प्रोजेक्ट के तहत कलाईकुंडा और झाड़ग्राम के बीच 30 किमी लंबे ट्रैक का उद्घाटन। कलाईकुंडा और झाड़ग्राम के बीच चार स्टेशनों को भी डेवलप किया गया है।
  • पूर्वी रेलवे के हावड़ा-बैंडेल-अजीमगंज खंड के तहत अजीमगंज और खारगराघाट रोड के बीच दोहरीकरण का लोकार्पण।
  • डानकुनी और बारुईपाड़ा के बीच चौथी लाइन और रसूलपुर और मागरा के बीच तीसरी रेललाइन सेवा का लोकार्पण।
  • बारानगर स्टेशन से नवापाड़ा तक मेट्रो रेल सर्विस।

असम में इन योजनाओं का उद्घाटन/शिलान्यास किया
इससे पहले पीएम मोदी ने सोमवार को बोगाईगांव स्थित इंडियन ऑयल की इंडमैक्स (INDMAX) इकाई, डिब्रूगढ़ के मधुबन स्थित ऑयल इंडिया लिमिटेड का सहायक टैंक फार्म और तिनसुकिया के हेबेडा गांव का गैस कंप्रेसर स्टेशन का लोकार्पण किया। प्रधानमंत्री ने धेमाजी इंजीनियरिंग कॉलेज का उद्घाटन किया। साथ ही सुआलकुची इंजीनियरिंग कॉलेज की आधारशिला रखी।

पुरानी सरकारों ने असम के साथ सौतेला व्यवहार किया
असम में मोदी ने कहा, ‘ब्रह्मपुत्र के इसी नॉर्थ बैंक से 8 दशक पहले असमिया सिनेमा ने यात्रा शुरू की थी। भारत रत्न भूपेन हजारिका ने लिखा था- ब्रह्मपुत्र के दोनों किनारे दीपों से रोशन होंगे। मैंने सोशल मीडिया में देखा कि आपने कैसी दिवाली मनाई, कैसे दीए जलाए। यह असम में विकास की तस्वीर भी है। असम के विकास का आधार यहां का इन्फ्रास्ट्रक्चर है, पर पहले की सरकारों ने नॉर्थ बैंक के साथ सौतेला व्यवहार किया। सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास के साथ काम कर रही हमारी सरकार ने भेदभाव दूर किया।’

 

Check Also

रिश्तों का कत्ल:मुंबई में 22 साल के युवक ने पहले चाकू से की पिता और दादा की हत्या और फिर इमारत से कूद कर दे दी जान

  वारदात के बाद मौके पर जांच करने के लिए पहुंची मुलुंड पुलिस स्टेशन की …