असम को भारत से अलग कर देंगे: भड़काऊ वीडियो पर राज्य सरकार दर्ज करेगी केस

गुवाहाटी : नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) को लेकर देशभर में कई जगहों पर भड़काऊ नारेबाजी और हिंसक विरोध प्रदर्शनों देखने को मिल रहे हैं। इसी बीच एक आपत्तिजनक वीडियो सामने आया है। वीडियो में इस्तेमाल की गई भाषा हमारे संघीय ढांचे पर प्रहार की तरह है। यह वीडियो अलगाववादी और देश को विभाजित करने के एजेंडे को दिखाती है।

टुकड़े-टुकड़े गैंग पर मचे घमासान के बीच जेएनयू छात्र शरजिल इमाम के इस वीडियो ने पूर्वोत्तर और असम को भारत के नक्शे से मिटाने के घृणित मंसूबे को बेनकाब किया है। उसका यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रहा है। असम सरकार ने इस वीडियो का संज्ञान लेते हुए शरजिल पर मामला दर्ज करने का फैसला लिया है।

जेएनयू छात्र शरजिल इमाम वायरल वीडियो में कहता है, हमारे पास संगठित लोग हों तो हम असम से हिंदुस्तान को हमेशा के लिए अलग कर सकते हैं। स्थायी तौर पर नहीं तो एक-दो महीने के लिए असम को हिंदुस्तान से अलग कर ही सकते हैं। रेलवे ट्रैक पर इतना मलबा डालो कि उनको हटाने में एक महीना लगे। जाना हो तो जाएं वायुसेना से। असम को काटना हमारी जिम्मेदारी है।

Check Also

एक दिन में रिकॉर्ड 67 संक्रमित मिले, इनमें 35 मरीज हॉटस्पॉट इब्राहिमगंज इलाके के

लगातार चौथे दिन राजधानी में 50 से ज्यादा कोरोना केस मिले, जहांगीराबाद में भी नया …