अमेरिकी महिला से रेप के आरोपी शख्स को मिली जमानत, पीड़िता ने मामला आगे बढ़ाने से किया इनकार

दिल्ली उच्च न्यायालय (Delhi High Court) ने सोमवार को अमेरिकी महिला के साथ कथित रूप से सामूहिक बलात्कार (Gangrape) के मामले में सह-अभियुक्त को जमानत दे दी. अगस्त 2017 में हुई घटना के लगभग तीन साल बाद महिला ने कहा कि वह अपनी शिकायत को आगे नहीं बढ़ाना चाहती है. मुख्य आरोपी पहले ही अंतरिम जमानत पर बाहर है. न्यायमूर्ति अनु मल्होत्रा ​​ने 11 फरवरी को अमित बालगुहार को नियमित जमानत दे दी, अदालत ने उल्लेख किया कि महिला अब अपनी गवाही प्रदान करने या मामले में कोई और भागीदारी करने की इच्छा नहीं रखती है.

अमेरिकी न्याय विभाग के माध्यम से महिला ने अगस्त 2020 में अदालत को सूचित किया था कि वह इस मामले में कोई और भागीदारी नहीं करना चाहती है. उसने इस मामले में भारतीय अधिकारियों द्वारा फिर से संपर्क नहीं करने को कहा. महिला ने पहले शिकायत की थी कि 25 अगस्त, 2017 को सफदरजंग एन्क्लेव में दो लोगों- शमीम और बालगुहार ने उसके साथ सामूहिक बलात्कार किया था. उसने आरोप लगाया कि बालगुहार ने अपराध किया और शमीम ने उसका यौन उत्पीड़न करने में मदद की और फिर बाद में सबूत नष्ट कर दिए गए.

‘महिला वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यवाही में शामिल नहीं’

अदालत ने बालगुहार को जमानत देते हुए कहा कि महिला वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कार्यवाही में शामिल नहीं हुई और उसका बयान 3 सितंबर, 2019 को दर्ज किया गया था. अदालत ने कहा, “अभियोजन पक्ष के बयान की रिकॉर्डिंग के लिए वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के प्रयास लंबे समय तक सफल नहीं हुए. 3 सितंबर, 2019 को, उसके वकील ने उसे यह कहते हुए एक प्राप्त ईमेल किया कि वह भारत आने के लिए तैयार नहीं है. साथ ही उसे चिकित्सकीय रूप से यात्रा नहीं करने की सलाह दी गई है और अपनी गवाही की रिकॉर्डिंग के लिए वो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग की व्यवस्था नहीं कर सकी.”

‘प्राथमिकी दर्ज होने में 24 दिन की देरी’

अभियुक्तों के लिए अपील करते हुए, उनके वकील अक्षय मलिक और खरवार सलीम ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज होने में 24 दिन की देरी थी. उन्होंने यह भी कहा कि शिकायतकर्ता अभियुक्त के साथ एक सहमति से संबंध में था. वहीं, अदालत ने कहा कि परिस्थितियों को देखते हुए, आरोपी जमानत का हकदार है. मुख्य आरोपी शमीम भी अंतरिम जमानत पर बाहर है.

Check Also

आजादी की 75वीं वर्षगांठ: PM मोदी की अध्यक्षता वाली 259 सदस्यों की कमिटी गठित, सोनिया भी शामिल

भारत की आजादी की 75वीं वर्षगांठ मनाने के उपलक्ष्य में भारत सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र …