अमेरिका में 12 दिसंबर को दिया जा सकता है पहला कोरोना वैक्सीन, जानें भारत में वैक्सीन से जुड़ा हर अपडेट

नई दिल्ली:अमेरिका में 11 या 12 दिसंबर से कोविड-19 टीकाकरण कार्यक्रम शुरू हो सकता है।। व्हाइट हाउस की ओर से रविवार को यह जानकारी दी गई।

शुक्रवार को अमेरिका की दवा कंपनी फाइजर और जर्मनी की उसकी साझेदार बायोएनटेक ने अपने कोविड-19 टीके के आपात इस्तेमाल की अनुमति लेने के लिये अमेरिका के खाद्य एवं औषधि प्रशासन (एफडीए) में आवेदन किया था और एफडीए की टीके से संबंधित परामर्श समिति की 10 दिसंबर को बैठक होनी है।

अमेरिका में कोरोना वायरस टीकाकरण कार्यक्रम के प्रमुख डॉक्टर मोनसेफ स्लाउ ने कहा, ”हमारी योजना मंजूरी मिलने के 24 घंटे के अंदर टीकों को टीकाकरण कार्यक्रम स्थलों तक पहुंचाने की है, लिहाजा मुझे लगता है कि मंजूरी मिलने के दो दिन बाद 11 या 12 दिसंबर से टीकाकरण कार्यक्रम शुरू हो जाएगा।

जानें भारत में कोरोना वैक्सीन से जुड़ा अपडेट

अब यदि अपने देश भारत की बात करें तो यहां भी कोरोना वायरस वैक्सीन को लेकर तेजी से काम चल रहा है। इंडिया टुडे रिपोर्ट के मुताबिक, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जल्द ही राज्य के मुख्यमंत्रियों और वैक्सीन की तैयारियों में लगे प्रतिनिधियों के साथ टीका वितरण योजनाओं पर चर्चा के लिए दो महत्वपूर्ण बैठकें करेंगे।

रिपोर्ट की मानें तो पीएम नरेंद्र मोदी ने आपातकाल प्राधिकरण और कोविड-19 टीकों के उपयोग के तौर-तरीकों की पड़ताल की।

उधर, केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने कोविड वैक्सीन को लेकर बड़ा अपडेट दिया है। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि देश में विकसित हो रहे कोरोना की वैक्सीन अगले एक या दो महीनो में अपने अंतिम परीक्षणों को पूरा कर सकते हैं। हर्षवर्धन के इस हयान से वैक्सीन के जल्द से जल्द आने की उम्मीद और बढ़ जाती है।

भारत बायोटेक ने इस महीने COVAXIN के तीसरे चरण के परीक्षण शुरू किए

इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च (ICMR) और भारत बायोटेक ने इस महीने COVAXIN के तीसरे चरण के परीक्षण शुरू किए हैं। इसमें 26,000 स्वयंसेवक शामिल हो रहे हैं। यह सबसे उन्नत भारतीय प्रायोगिक टीका है।

महामारी पर एक वेब सम्मेलन में डॉक्टर हर्षवर्धन ने कहा, ‘हम स्वदेशी टीका विकसित करने की प्रक्रिया में हैं। हम अगले एक-दो महीनों में तीसरे चरण के परीक्षण को पूरा करने की प्रक्रिया में हैं।’

जनवरी से जून तक कोरोना वायरस वैक्सीन आने की संभावना 

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, संभवत: जनवरी से जून 2021 के बीच कोविड-19 की वैक्सीन दी जाएगी। भारत सरकार इस प्रक्रिया के लिए कोल्ड चैन, पर्याप्त शिशियां व सिरिंज आदि की व्यवस्था को सही कर रही है। सरकार ने दावा किया है कि हमारे पास दवा के लोगों तक उप्लब्ध कराने के लिए पर्याप्त व्यवस्था है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि देश में कई कोरोना वैक्सीन ट्रायल चल रहा है। कई वैक्सीन अंतिम स्टेज ट्रायल में पहुंच गया है। वहीं, रूस के कोरोना वैक्सीन का भी भारत में ट्रायल चल रहा है। उम्मीद है कि जल्द ही भारत में आम लोगों को वैक्सीन दिया जाना संभव हो पाएगा।

Check Also

फोन टैपिंग पर पाकिस्तान में इमरान खान पर सख्त हुई मरयम नवाज

इस्लामाबाद। पाकिस्तान के सत्ताधारियों और विपक्षियों के बीच तकरार बढ़ती जा रही है। पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज …