अमेरिका में जन्मदर 112 साल के निचले स्तर पर:लगातार छठे साल कम रही जन्म की दर, कोरोना में मां बनने से बच रही हैं महिलाएं

अमेरिका में कुछ समय पहले फर्टिलिटी रेट 2.1 था, जो घटकर अब 1.6 हो चुका है। - Dainik Bhaskar

अमेरिका में कुछ समय पहले फर्टिलिटी रेट 2.1 था, जो घटकर अब 1.6 हो चुका है।

  • यूएससीडीसी ने 99% जन्म प्रमाण-पत्रों के आधार पर बनाई रिपोर्ट

अमेरिका में लगातार छठे साल जन्मदर में गिरावट देखने को मिली है और यह 112 साल के रिकॉर्ड निचले स्तर पर पहुंच गई है। 2019 की तुलना में इसमें 4% की गिरावट आई है। यह खुलासा सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रीवेंशन (सीडीसी) की ताजा रिपोर्ट में हुआ है। इसे पिछले साल जारी हुए 99% जन्म-प्रमाण पत्रों के विश्लेषण के आधार पर तैयार किया गया है। यह 1979 के बाद सबसे बड़ी गिरावट है। जन्मदर घटने का प्रमुख कारण चिंता, घबराहट और आर्थिक स्थिति में गिरावट भी है। महिलाएं महामारी के दौरान मां बनने से बच रही हैं।

अमेरिका में जन्मदर 1,000 महिलाओं पर 56 हो गई है, जो अब तक की सबसे कम है। अमेरिका में कुछ समय पहले फर्टिलिटी रेट 2.1 था, जो घटकर अब 1.6 हो चुका है। इसमें पिछले 10 साल से लगातार गिरावट दर्ज की गई है। अमेरिका में कुछ समय पहले फर्टिलिटी रेट 2.1 था, जो घटकर अब 1.6 हो चुका है। इसमें पिछले 10 साल से लगातार गिरावट दर्ज की गई है।

रिपोर्ट के मुताबिक पिछले साल अमेरिका में करीब 36 लाख बच्चे पैदा हुए थे। 2019 में यह करीब 38 लाख थे। 2007 में यह आंकड़ा करीब 43 लाख था। अमेरिका के अलावा कई यूरोपीय देशों में भी जन्म दर में गिरावट दर्ज की गई है। इटली में पहली बार लगे लॉकडाउन के दौरान जन्मदर में करीब 22% की गिरावट दर्ज की गई थी।

15-19 साल की युवतियों में जन्म दर 8% तक घटी

रिपोर्ट के मुताबिक 15 से 19 के आयु वर्ग में जन्मदर साल भर में 8% घटी है। यह 1991 के बाद से लगातार घट रही है। वहीं, एशियाई-अमेरिकी महिलाओं में जन्मदर 8%, हिस्पैनिक में 3% और श्वेत महिलाओं में 6% घटी है। वहीं सिजेरियन डिलीवरी 32% बढ़ी है।

 

खबरें और भी हैं…

Check Also

जी-7 सम्मेलन में भी म्यांमार में लोकतंत्र बचाने की गूंज

   ब्रिटेन के कार्नवाल में चल रहे जी-7 सम्मेलन स्थल पर म्यांमार में लोकतंत्र को …