अमेठी में दलित प्रधानपति की जलाकर हत्या, स्मृति ईरानी अधिकारियों से बोलीं, जल्द हो आरोपियों की गिरफ्तारी

उत्तर प्रदेश के अमेठी में दलित प्रधानपति की जलाकर हत्या कर दी गई। परिजनों ने विरोधियों पर हत्या का आरोप लगाया है। परिवालों की तहरीर पर पांच लोगों पर नामजद हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

उधर, मामले जानकारी होते ही केंद्रीय मंत्री व सांसद स्मृति ईरानी तुरंत एक्शन में आ गईं। स्मृति ने डीएम को फोन कर परिवार को आर्थिक मदद के लिए निर्देशित किया। इसके साथ ही एसपी दिनेश सिंह  से भी फोन पर बात की। स्मृति ने सभी आरोपियों जल्द-जल्द गिरफ्तारी कर कड़ी कार्रवाई करें।

मुंशीगंज कोतवाली क्षेत्र के बंदोइया गांव निवासी  40 वर्षीय अर्जुन पुत्र रामचरण कोरी  गुरुवार की देर रात लगभग 10:30 बजे गांव के ही एक व्यक्ति के मकान की बाउंड्री के अंदर जली हुई अवस्था में पाए गए। परिजन इलाज के लिए उन्हें सीएचसी नौगिरवा ले गए। जहां से डॉक्टरों ने उन्हें जिला अस्पताल सुल्तानपुर रेफर कर दिया। सुल्तानपुर से उन्हें ट्रामा सेंटर लखनऊ के लिए रेफर किया गया। लखनऊ ले जाते समय रास्ते में उनकी मौत हो गई। शव  घर पहुंचने पर मृतक के परिजनों में हाहाकार मच गया। सूचना पर भारी संख्या में पुलिस बल मृतक के घर पहुंच गया।

इस संबंध में एसपी दिनेश सिंह ने बताया कि अभी कोई तहरीर मिली है। पांच लोगों पर नामजद हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए दबिश दे रही है।

Check Also

चिल्ला बार्डर पर किसानों का हल्ला बोल; शहर में लगे भीषण जाम में फंसे वाहन, 30 दिनों का राशन लेकर पहुंचे BKU के कार्यकर्ता

  नोएडा में चिल्ला बार्डर के पास दिल्ली के जंतर मंतर जाने के लिए अड़े …