अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की वापसी व्यवस्थित तरीके से होगी : बाइडेन प्रशासन

वाशिंगटन : अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन के प्रशासन ने कहा है कि अफगानिस्तान से उनके सैनिकों की वापसी व्यवस्थित तरीके से और उसके सहयोगियों एवं साझेदारों के परामर्श के साथ की जाएगी.

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता नेड प्राइस ने मंगलवार को अपने दैनिक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यह स्पष्ट किया है कि वह अफगानिस्तान में हमारे सैनिकों की मौजूदगी समाप्त करना चाहते हैं. जैसा उन्होंने कहा है, विदेश मंत्री टोनी ब्लिंकन ने कहा है, जैसा रक्षा मंत्री लॉयड ऑस्टिन ने और बाकियों ने कहा है, हम संघर्ष के एक जिम्मेदाराना तरीके से अंत को लेकर, हमारे सैनिकों को जोखिम के रास्ते से हटाने और खासकर यह सुनिश्चित करने को लेकर प्रतिबद्ध हैं कि अफगानिस्तान अमेरिका या उसके सहयोगियों के लिए खतरा पैदा करने वाले आतंकवादी हमले करने का कभी दोबारा मंच ना बने.’

उन्होंने कहा कि हाल में ब्रसेल्स में आयोजित नाटो की एक बैठक में इस मुद्दे और अफगानिस्तान के मामले पर आगे की कार्रवाई को लेकर एक समझौता हुआ था.

प्राइस ने कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय समुदाय भी इस बात को लेकर एकजुट है कि अफगानिस्तान में इतने लंबे समय से हमने जिसका भी सामना किया है कि उसका कोई सैन्य समाधान नहीं हो सकता. यह एक संघर्ष है, जिसे एक राजनीति समाधान तथा व्यापक युद्ध विराम और उन प्रक्रियाओं के जरिए समाप्त किया जा सकता है, जिनका नेतृत्व अफगानिस्तान करे.’

अमेरिकी के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के तालिबान के साथ किए समझौते के तहत एक मई तक अफगानिस्तान से सभी अमेरिकी सैनिकों की वापसी के सवाल पर प्राइस ने कहा, ‘बाइडेन ने हाल में एक मई की समय सीमा को लेकर बात की है. मैं बस इतना कह सकता हूं कि वहां से सैनिकों की वापसी व्यवस्थित तरीके से और सहयोगियों एवं साझेदारों के परामर्श के साथ की जाएगी.’

बाइडेन ने पहले एक बयान में एक मई तक सभी अमेरिकी सैनिकों की अफगानिस्तान से वापसी की बात खारिज कर दी थी.

Check Also

पाकिस्तान के लोगों को इजरायल जाने की इजाजत नहीं, पासपोर्ट पर है ये चेतावनी, जानिए क्यों

नई दिल्लीः इजरायल और फिलिस्तीन के बीच चल रहे खूनी खेल के छींटे इतिहास में दर्ज …