अन्नाद्रमुक ने शशिकला से बातचीत करने वाले 16 नेताओं को पार्टी से निकाला

तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव द्रविड़ मुन्नेत्र कड़गम (DMK) की सरकार के बनने के बाद बड़ा राजनीतिक घटनाक्रम सामने आया है. ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुन्नेत्र कडग़म यानी एआईएडीएमके ने सोमवार को बड़ी कार्रवाई करते हुए पार्टी के 16 पदाधिकारियों को निष्कासित कर दिया है. इन नेताओं पर पार्टी की पूर्व की नेता वीके शशिकला के साथ बातचीत करने का आरोप था. अन्नाद्रमुक ने पार्टी विरोधी गतिविधियों के चलते प्रवक्ता वी पुगाझेंदी को भी बाहर का रास्ता दिखा दिया है. पार्टी की ओर से जारी एक बयान में अन्नाद्रमुक ने पार्टी नेताओं की शशिकला से हुई बातचीत को ड्रामा बताया. बयान में कहा गया कि पार्टी एक परिवार की इच्छाओं के लिए खुद को कभी भी बर्बाद नहीं होने देगी.

अन्नाद्रमुक ने पार्टी नेताओं की शशिकला से हुई बातचीत को ड्रामा बताया

अन्नाद्रमुक ने सख्त अंदाज में कहा कि शशिकला के साथ बातचीत में शामिल हर पार्टी वर्कर पर कार्रवाई की जाएगी. आपको बता दें कि इससे पहले तमिलनाडु विधानसभा में विपक्ष के नेता पूर्व मुख्यमंत्री ई. पलानीस्वामी ने शशिकला के अन्नाद्रमुक में वापस आने उनकी कमान संभालने पर अपनी चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि वीके शशिकला उनके परिवार के सदस्यों के लिए अन्नाद्रमुक में कोई जगह नहीं है.

शशिकला के लिए अन्नाद्रमुक में कोई जगह नहीं

पलानीस्वामी ने कहा था कि शशिकला अन्नाद्रमुक से बाहर हैं उनका उनके रिश्तेदारों का पार्टी में कोई स्थान नहीं है. उन्होंने चुनाव से पहले खुले तौर पर घोषणा की है कि वह राजनीति से दूर हो गई हैं. वॉयस क्लिपिंग उनकी एएमएमके कैडर के साथ बातचीत थी लेकिन कुछ तत्व जानबूझकर भ्रम पैदा कर रहे हैं गलत जानकारी फैला रहे हैं.” पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि अन्नाद्रमुक के सभी नेता इस बात पर अडिग हैं कि उनकी पार्टी में कोई जगह नहीं है उन्होंने कहा कि अन्नाद्रमुक मोर्चे ने चुनाव लड़ा था इस हिस्से को जनता के सामने स्पष्ट करते हुए सीटें जीती थीं.

Check Also

भारतीय वायुसेना ने दतिया के बाढ़ प्रभावित गांव से गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को एयरलिफ्ट किया

दतिया, मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा को बाढ़ प्रभावित इलाके से निकाल लिया …