अगर आप भी खाते है रेड मीट तो जान ले ये बात !

रेड मीट उसे कहा जाता है जो किसी भी स्तनधारी जानवर से हमें होता प्राप्त होता है इसमें बीफ,पोर्क, बकरा और मटन जैसे मांस आते हैं। बहुत से लोग रोजाना इस तरह के मांस का किसी ने किसी रूप में सेवन करते हैं।
अक्टूबर 2015 में विश्व स्वास्थ संगठन ने एक रिपोर्ट प्रकाशित की थी जिसमे यह कहा गया था कि रेड मीट शायद मनुष्य के लिए कैंसर जनक है. इसका मतलब था की कुछ तथ्य ऐसे हैं जिनसे यह साबित होता है कि रेड मीट कैंसर के खतरे को बढ़ा सकता है।
स्वाद बढ़ाने या संरक्षण में सुधार करने के लिए सल्टिंग, क्यूरिंग, किण्वन, धुंए या अन्य प्रक्रियाओं के माध्यम से परिवर्तित किया जाता है वह मनुष्यों में कैंसर का कारण बन सकता हैं। यही नहीं, कई निष्कर्ष में यह भी पाया गया है कि जो लोग रेड मीट का ज्यादा सेवन करते हैं उनमे कैंसर के अलावा किडनी फेलियर, दिल की बीमारियां और डायवर्टिकुलिटिस जैसी बीमारियां होने का खतरा बढ़ जाता है।

Check Also

वर्ल्ड विजन इंडिया का चाइल्ड वेल-बीइंग सूचकांक प्रकाशित

बाल केंद्रित मानवीय संगठन वर्ल्ड विजन इंडिया ने बुधवार को इंडिया चाइल्ड वेल-बीइंग सूचकांक रिपोर्ट …