अखिलेश यादव ने UP Budget 2021 पर कसा तंज, लोग पेपर फ्री बजट नहीं योगी फ्री यूपी चाहते हैं

प्रयागराज। उत्तर प्रदेश सरकार के बजट पेश करने के बाद समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि यह योगी जी का अंतिम बजट है। अब खेल खत्म। बजट में गरीबों और किसानों को केवल धोखा मिला है। महंगाई लगातार बढ़ रही है। उन्होंने आगे कहा कि सपा ने हर वर्ग के लोगों को जोड़ने कि कोशिश की है। चुनाव नजदीक आने पर बड़ी संख्या में सत्ता पक्ष के लोग भी शामिल होंगे। साथ ही उन्होंने ने कहा कि भाजपा सरकार केवल पूंजीपतियों के लिए काम कर रही है। आज किसान परेशान है। बीजेपी किसानों को कम्पनी के सामने छोड़ना चाहती है।

 

अखिलेश यादव ने कहा कि लोग पेपर फ्री बजट नहीं योगी फ्री यूपी चाहते हैं। बजट में भाजपा ने अपने संकल्प पत्र को भी पूरा नहीं किया। बीजेपी ने केवल सपा के पुराने कामों को ही दिखाया है। अखिलेश यादव ने कहा कि लोगों से असलियत छिपाई जा रही है। इसका उदाहरण एक्सप्रेस वे है। उन्होंने कहा कि पंचायत चुनावों के बारे में कार्यकर्ताओं की राय से निर्णय किया जाएगा। वहीं साथ ही गठबंधन को लेकर उन्होंने कहा कि सपा के दरवाजे सभी पार्टियों के लिए खुले हैं।

बता दें कि इस बजट का आकार पिछले वित्त वर्ष के मुकाबले 37,410 करोड़ रुपये अधिक है। प्रदेश के पहले ‘पेपरलेस’ बजट के तहत सभी सदस्यों को भी टैबलेट पर बजट दस्तावेज मौजूद कराया गया। यह योगी सरकार का पांचवां बजट है। इस बार के बजट में 27,598.40 करोड़ रुपये की नयी योजनाओं का प्रस्ताव दिया गया है।

Check Also

यूपी में GST Tribunal के गठन पर अंतरिम रोक:चीफ जस्टिस ने कहा- हाईकोर्ट की अनुमति जरुरी, 15 मार्च को होगी अगली सुनवाई

इससे पहले इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बुधवार को एजुकेशन ट्रिब्यूनल को इसी प्रकार बिना कोर्ट की …