Home / देश / करते हैं ये काम,तिरुपति से रोज 5 ट्रक बाल मंगवाते है ये मंत्री

करते हैं ये काम,तिरुपति से रोज 5 ट्रक बाल मंगवाते है ये मंत्री

वैसे तो आप सब यह जानते है कि भारत में स्थित तिरुपति बालाजी के मंदिर में प्रत्येक दिन कई भक्त अपनी श्रद्धा के मुताबिक और मन्नत की कारण से अपने बालों का दान देते है। आज हम आपको बताएंगे कि इतने सारे भक्तों के मुंडन के बाद इन बालों के साथ आखिर क्या होता है।

दरअसल, इन बालों का एक बहुत बड़ा अंतराष्ट्रीय बाज़ार है। सौंदर्य और कॉस्मेटिक जगत में सुन्दर बालों की चाह रखने वालों की कारण से हमारे यह बाल करोड़ों रुपये में बिकते है। इन बालों की बढ़ती मांग और कीमत की कारण से इन्हें ‘ब्लैक गोल्ड’ भी कहा जाता है। भारतीय बालों का बाज़ार पूरी दुनिया में फैला हुआ है। ये बाल यूरोप, अफ्रीका, दक्षिण अमेरिका और कनाडा तक जाते है।

ऐसे में भारत के केंद्रीय मंत्री रहे नितिन गडकरी भी प्रत्येक दिन लगभग 5 ट्रक बाल खरीदते है। जिसकी वजह ‘महात्मा गांधी विज्ञान संस्थान’ द्वारा एक शोध में कटे हुए बालों से ‘एमिनो एसिड’ बनाना था। एक कार्यक्रम के दौरान नितिन गडकरी द्वारा इस बात का खुलासा किया गया था।

इस शोध से बनाये गए एमिनो एसिड को उन्होंने खुद इसका इस्तेमाल खेतों में किया था ।जिसका बहुत अच्छा परिणाम भी मिला था। जिसके बाद गडकरी जी ने अपने गांव में एमिनो एसिड बनाने की एक छोटी सी यूनिट डाल दी।

ख़रीदे गए इन बालों से एमिनो एसिड पर आधारित ‘माइक्रो न्यूट्रिएंट’ तैयार किया जाता है। एमिनो एसिड की एक बोतल की कीमत बाजार में लगभग 500 रुपये की मिलती है और यही बोतल अब यूनिट डालने के बाद लगभग 300 रुपये में दी जाती है।

इस तरह से हम भारतियों द्वारा दान किये बालों को अंतराष्ट्रीय बाजार में ना बेचकर हमारे किसान भाइयों के लिए प्रयोग की जाए तो हो सकता है दान किये हुए बालों का पुण्य भी लोगों तक पहुंच जाएगा।

Loading...

Check Also

ISIS मॉड्यूल का पता लगाने का मामला: NIA ने तिरुनेलवेली के दो ठिकानों पर मारा छापा

तिरुनेलवेली :तमिलनाडु में आईएसआईएस मॉड्यूल का पता लगाने के मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ...