Sunday , June 16 2019
Home / Home / स्मृति ईरानी के करीबी पूर्व प्रधान की हत्या, घर के बाहर सोते समय अज्ञात हमलावरों ने की फायरिंग

स्मृति ईरानी के करीबी पूर्व प्रधान की हत्या, घर के बाहर सोते समय अज्ञात हमलावरों ने की फायरिंग

अमेठी. गौरीगंज थाना इलाके के बरौलिया गांव के पूर्व प्रधान सुरेंद्र सिंह की शनिवार देर रात अज्ञात हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी। सुरेंद्र सिंह अमेठी से नव निर्वाचित सांसद स्मृति ईरानी के करीबी थे। उन्होंने स्मृति की जीत में बड़ी भूमिका निभाई थी। पुलिस को शक है कि हत्या की वजह परिवारिक रंजिश हो सकती है। इसमें कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है।

d

लखनऊ ले जाते वक्त रास्ते में हुई मौत

जानकारी के मुताबिक, शनिवार रात सुरेंद्र अपने घर के बाहर सो रहे थे, तभी उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग की गई। वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश मौके से फरार हो गए। सुरेंद्र को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां से उन्हें ट्रामा सेंटर लखनऊ रैफर कर दिया, लेकिन रास्ते में ही उनकी मौत हो गई।

परिवारिक विवाद हो सकती है हत्या की वजह

हत्या के मामले में डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि 6-7 संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जारी है। घटना के खुलासे के लिए तीन टीमें बनाकर छापेमारी की जा रही है। प्रथम दृष्टया मामला पारिवारिक रंजिश का लग रहा है। पुलिस ने आशंका के आधार पर कई जगहों पर छापेमारी की है। लेकिन अभी किसी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। इस घटना से इलाके में तनाव का माहौल है। मौके पर भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।
सुरेंद्र को साथ लेकर स्मृति करती थीं प्रचार

बरौलिया गांव, गोवा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का गोद लिया गांव था। स्मृति ने प्रचार के दौरान इसी गांव में जूते बांटे थे। लोकसभा चुनाव में सुरेंद्र ने स्मृति के चुनाव प्रचार में अहम रोल निभाया था। वे ज्यादातर जगहों पर सुरेंद्र के साथ ही प्रचार करने जाती थीं। उनकी कई मौके पर स्मृति के साथ फोटो भी है। सुरेंद्र का प्रभाव कई गांवों में था। जिसका फायदा स्मृति को चुनाव प्रचार में मिला।

Loading...