Home / देश / अवैध वाहनों से वसूली में भोपाल भी आगे

अवैध वाहनों से वसूली में भोपाल भी आगे

भोपाल :  अवैध तरीके से चलने वाले यात्री वाहनों से वसूली के मामले में प्रदेश की राजधानी भोपाल भी आगे निकल गई है। यह जिला अवैध यात्री वाहनों से वसूली करने वाले टॉप-10 जिलों में शामिल हो गया है। दो महीने के दौरान ही 20 फीसदी से ज्यादा राजस्व परिवहन विभाग ने अर्जित किया है। बीते दिनों भोपाल समेत अन्य स्थानों पर यात्री वाहनों के अवैध संचालन और स्कूल वाहनों में चैकिंग की सख्ती का फायदा परिवहन विभाग को मिला है। जिस तरह से प्रदेश में स्वच्छता अभियान में इंदौर शहर पूरे देश में अव्वल है, उसी तरह से प्रदेश की राजधानी भी देश में अपना नाम रोशन कर रही है।

अब यात्री वाहनों से वसूली करने वाले टॉप-10 जिलों में भोपाल भी शामिल हो गया है। बीते दिनों भोपाल समेत अन्य स्थानों पर यात्री वाहनों के अवैध संचालन और स्कूल वाहनों में चैकिंग की सख्ती का फायदा परिवहन विभाग को मिला है। दो महीने के दौरान ही 20 फीसदी से ज्यादा राजस्व परिवहन विभाग ने अर्जित किया है।

इस वसूली में भोपाल के अलावा झाबुआ, मंदसौर, रतलाम, गुना, विदिशा, श्योपुर, शिवपुरी, अशोक नगर, दतिया, जबलपुर, छिंदवाड़ा, बालाघाट, डिंडोरी, हरदा, सीधी, मंडला, उज्जौन और इंदौर जिले का योगदान रहा है।ट्रांसपोर्ट कमिश्नर बी मधु कुमार का कहना है कि अभी अक्टूबर और नवंबर के महीनों की ही समीक्षा की है। इसमें 560 करोड़ के लक्ष्य के विरुद्घ 672.9 करोड़ का राजस्व अर्जित किया है। विभाग को एक मुश्त समाधान योजना का भी फायदा अगस्त के बाद से मिला है। इसमें पुराने टैक्स की वसूली के लिए विभाग ने वाहन मालिकों को 40 से लेकर 90 फीसदी तक की छूट प्रदान की है। इसी के नतीजे में 4.14 करोड़ रुपए इस योजना के तहत मिल सके हैं। इसी तरह ओवर लोडिंग, स्कूल वाहनों पर बकाया टैक्स वूसली से विभाग को 7.22 करोड़ रुपए प्राप्त हुए हैं।

Loading...

Check Also

267 ग्राम हैरोइन सहित 1 धंधेबाज काबू

तरनतारन :सी.आई.ए. स्टाफ पुलिस ने 1 धंधेबाज को 267 ग्राम हैरोइन सहित काबू किया है। ...