Saturday , March 23 2019
Home / उत्तर प्रदेश / 28वा व्यास सम्मान “जितने लोग उतने प्रेम”

28वा व्यास सम्मान “जितने लोग उतने प्रेम”

 

 

कानपुर – के के बिरला फाउंडेशन की ओर से हर वर्ष लेखक, कलम से लिखने वाले को व्यास पुरस्कार मिलता है जो 2013 में कवि लीलाधर जगुडी की पुस्तक “जितने लोग उतने प्रेम” जो काफी अच्छी लेखनी वा समाज के प्रेम को दर्शाती है । लीलाधर जगुडी ने कविता संग्रह करते समय जो अनुभव किया वो लिखा उन्होंने अपने साक्षात्कार में कहा कि जितने लोग उतने प्रेम जो व्यापक अनुभव लोक से रची पकी हुई नई कविता जैसी है जागुड़ी ने अनुभव और भाषा के बीच कविता को जीवित रखा है अनुभव के आकाश में उड़ान भरने वाले वे हिंदी के ऐसे कवि हैं जिनके यहां शब्द की कॉपी किया क्रीड़ा का उपक्रम नहीं है उसे एक सार्थक सर्जनात्मक की कोख से जन्म लेते हैं। बल्कि अनुभव संसार भाषा संवेदना कथ्य सभी में एक ताजगी के एहसास की तरह है इसलिए उनकी कविता एक नई कविता रहती है। मैं वह ऊंचा नहीं जो मात्र ऊंचाई पर होता है।

 

कवि हूं और पतन के अंतिम बिंदु तक पीछा करता हूं

हर ऊंचाई पर दबी दिखती है मुझे ऊंचाई की पूंछ

लगता है थोड़ी सी ऊंचाई और होनी चाहिए थी…

यह कविता जब हिदी के वरिष्ठ कवि लीलाधर जगूड़ी ने ‘ऊंचाई है कि’ शीर्षक से लिखी थीं, तो उन्हें यह अवश्य भान नहीं रहा होगा कि साहित्य जगत आने वाले समय में उन्हें सम्मान से लाद देगा.। लीलाधर जगूड़ी का जन्म 1 जुलाई, 1940 को उत्तराखंड के टिहरी गढ़वाल के एक गांव में हुआ था उन्होंने शिक्षक की नौकरी की और उसके बाद उत्तर प्रदेश सूचना विभाग में अधिकारी रहे फिलहाल वह देहरादून में रहते हैं उनकी प्रमुख कृतियां हैं कविता संग्रह शंखमुखी शिखरों पर, नाटक जारी है इस यात्रा में, रात अब भी मौजूद है बची हुई पृथ्वी, घबराए हुए शब्द, भय भी शक्ति देता है, अनुभव के आकाश में चाँद, महाकाव्य के बिना, ईश्वर की अध्यक्षता में, खबर का मुँह विज्ञापन से ढँका है नाटक पाँच बेटे गद्य:मेरे साक्षात्कार आदि।

व्यास सम्मान पिछले दस वर्षों में प्रकाशित कृति पर लेखक को दिया जाता है। हिंदी साहित्य और काव्यजगत ने लीलाधर जगूड़ी को यह सम्मान मिलने पर खुशी जाहिर की है ।

 

रिपोर्ट-

अंकिता पाल

कानपुर

Loading...

Check Also

BSP ने 11 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की लिस्ट की जारी

नई दिल्ली/लखनऊ:बहुजन समाज पार्टी ने 11 सीटों पर अपने प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी ...