Wednesday , June 19 2019
Home / धर्म / हो सकता है गरीबी का कारण,कहीं आपकी कुंडली में तो नहीं है दोष

हो सकता है गरीबी का कारण,कहीं आपकी कुंडली में तो नहीं है दोष

आप सभी के पास अगर आपकी कुंडली है तो उसे अपने ज्योतिष को दिखाकर आप यह पुछ सकते हैं कि आपको कुंडली में अमीर बनने का कितना योग है। वहीं अगर आप थोड़ा भी ज्योतिष जानते हैं तो अपनी जन्मकुंडली में धनवान होने के योग स्वयं देख सकते हैं।
जानें ये बातें:
# कहते हैं अगर जन्मकुंडली के दूसरे भाव में शुभ ग्रह बैठा हो तो जातक के पास अथाह पैसा आता है। अगर जन्म कुंडली के दूसरे भाव पर शुभ ग्रह की दृष्टि हो तब भी भरपूर धन के योग बनने लगते हैं।
# दूसरे भाव के स्वामी यानी द्वितीयेश को धनेश माना जाता है अत: उस पर शुभ ग्रह की दृष्टि हो तब भी व्यक्ति को धन की कमी नहीं होती है।
# दूसरे भाव का स्वामी यानी द्वितीयेश के साथ कोई शुभ ग्रह बैठा हो तब भी व्यक्ति के पास खूब पैसा आता है। जब बृहस्पति यानी गुरु कुंडली के केंद्र में स्थित हो तब भी खूब पैसा आता है।
# बुध पर गुरु की पूर्ण दृष्टि हो और बृहस्पति लाभ भाव (ग्यारहवें भाव) में स्‍थित हो तब भी खूब पैसा आता है। अब अगर द्वितीयेश उच्च राशि का होकर केंद्र में बैठा हो तो आप मालामाल बन सकते हैं।
# लग्नेश लग्न स्थान का स्वामी जहां बैठा हो, उससे दूसरे भाव का स्वामी उच्च राशि का होकर केंद्र में बैठा हो तब भी व्यक्ति अमीर बन जाता है।
Loading...

Check Also

साप्ताहिक भविष्यफल : 19 जून से 25 जून तक, राशि अनुसार जानिए क्या लिखा है आपके नसीब में

मेष, सिंह, और धनु राशि :-पैसे को संभलकर खर्च करें ǀसितारों के अनुसार आप बिना किसी ...