Home / बिहार / हर साल प्रेग्नेंट हो जाती थी महिला टीचर, सामने आया सच तो…

हर साल प्रेग्नेंट हो जाती थी महिला टीचर, सामने आया सच तो…

बिहार से एक हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां एक महिला टीचर हर साल प्रेग्नेंट हो जाती थी। हालांकि वो सिर्फ कागजों में गर्भवती होती थी और ये पूरी धांधली शिक्षा विभाग में चल रही थी। जांच में जब सच सामने आया तो अफसरों के होश उड़ गए। आज तक न्यूज वेबसाइट के मुताबिक पूरे मामले में बीईओ को नोटिस भेजा गया है।

 

सात साल से चल रहा था खेल

ये धांधली बिहार राज्य के सुपौल के शिक्षा विभाग से सामने आई है। यहां एक 50 साल की महिला टीचर को कुछ अफसरों ने पहले दस्तावेजों पर न‍ियुक्त कर लिया और फिर उसको एक ऐसे विद्यालय में तैनात दिखाया गया जो असल में था ही नहीं। 50 साल की टीचर 7 वर्षों से प्रेग्नेंट बताई गई और मातृत्व अवकाश दिखाकर हर माह उसका वेतन भी जारी हो रहा था।

 

अधिकारी से लेकर डॉक्टर तक शामिल

सुपौल के पिपरा प्रखंड में मध्य विद्यालय हटबरिया में टीचर कुमारी सुभद्रा ठाकुर को तैनात दिखाया गया था। हालांकि इस नाम की कोई टीचर ही नहीं थी। उसका सात साल का करीब 15 लाख रुपए वेतन सब मिलकर ले रहे थे। मामले की शिकायत पर डीईओ अजय कुमार सिंह उस स्कूल में पहुंचे तो पता लगा कि उसका नाम ही रजिस्टर में नहीं है और वो 2012 से बिना सूचना के गायब है। इसके बाद डीईओ ने बीईओ सूर्यदेव प्रसाद को नोटिस जारी किया है।

Loading...

Check Also

बिहार: पंचायत का फरमान- लड़कियों के लिए मोबाइल और शादी में डांस पर रोक

मधुबनी:समय-समय पर अलग-अलग पंचायतों के तुगलकी फरमान सामने आत रहते हैं। इस बार बिहार के ...