Sunday , March 24 2019
Home / मनोरंजन / सुहानी सुबह में मीठी मीठी वाणी बोलिए और सबका दिल जीत लीजिए

सुहानी सुबह में मीठी मीठी वाणी बोलिए और सबका दिल जीत लीजिए

सुहानी सुबह में मीठी मीठी वाणी बोलिए और दिल सबका जीत लीजिए

हमारी वाणी जितनी मधुर होगी हम उतने ही सबके प्रिय होंगे। वाणी की मधुरता दिल के द्वार खोलने की चाबी है।नम्रता और मीठे वचन ही मनुष्य के सच्चे आभूषण होते हैं।

ऐसी वाणी बोलिए, मन का आपा खोये, औरन को शीतल करे, आपहु शीतल होये।

गुड़ न दो, पर गुड़ जैसा मीठा अवश्य बोलिए क्योंकि अधिकांश समस्याओं की शुरुआत वाणी की अशिष्टता और अभद्रता से ही होती है।

 

मीठी वाणी व्यक्तित्व की विशिष्टता की परिचायक है, हमारी जीवन-शैली शहद के घड़े के ढक्कन के समान होनी चाहिए, मीठी वाणी जीवन के सौंदर्य को निखार देती है और व्यक्तित्व की अनेक कमियों को छिपा देती है।

मन और अहंकार का त्याग करके ऐसी वाणी में बात करें कि औरों के साथ-साथ स्वयं को भी खुशी मिले , अर्थात मीठी वाणी से ही दिल जीते जाते हैं तथा हर क्षेत्र में यश कीर्ति हासिल की जा सकती है।

कठोर वचन बुरा है क्योकि तन-मन को जला देता है और मृदुल वचन अमृत वर्षा के समान हैं। जब मन और वाणी एक होकर कोई चीज मांगते है, तब उस प्रार्थना का फल अवश्य मिलता है। वाणी का सब खेल है वाणी से सब दाँव, मधुर होवे तो जीत गए नहीं तो होवे घाव।

Loading...

Check Also

ये है हिंदुस्तान की सबसे सुंदर लड़की,एक ही झलक मे हर कोई हो जाता है इनका दीवाना

दुनिया भर में कई खूबसूरत महिलाएं हैं। लेकिन भारत की महिलाओं की सुंदरता के चर्चे ...