Home / Home / सीएम की पहल पर साउदी अरब में बंधक बने मो. मुफीज की स्वदेश वापसी

सीएम की पहल पर साउदी अरब में बंधक बने मो. मुफीज की स्वदेश वापसी

रांची: मुख्यमंत्री रघुवर दास के प्रयास से रांची के मोहम्मद मुफ़ीज़ के घर में आज ईद मनेगी । रांची के हिन्दपीढ़ी के मो मुफ़ीज़ आज एयर एशिया की फ्लाइट से पूर्वाह्न 11 बजे दिल्ली से रांची लौट रहे हैं. कल सऊदी अरब से दुबई होते हुए आज अहले सुबह 4 बजे मुफ़ीज़ दिल्ली पहुंचे. दिल्ली के इन्दिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर उन्हें मुख्यमंत्री के आप्त सचिव के पी बालियान ने रिसीव किया।
ज्ञात हो कि मो मुफ़ीज़ को तीन माह से अधिक समय से सऊदी अरब के रियाद में एक कंपनी ने बंधक बना कर रखा था. तब मुफ़ीज़ की बहन इशरत परवीन ने मुख्य मंत्री से अपने भाई को छुड़ा कर लाने की गुहार लगायी.

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने तुरत अपने प्रधान सचिव को इस बाबत कार्रवाई करने और मुफ़ीज़ को वापस भारत लाने की पहल करने का निदेश दिया. नई दिल्ली से स्थानिक आयुक्त एमआर मीणा और मुख्य मंत्री के आप्त सचिव के पी बालियान ने पूरा जोर लगा दिया. इन दोनों ने विदेश मंत्रालय और सऊदी अरब के भारतीय दूतावास से लगातार संपर्क कर उन्हें भारत लाने की कोशिश शुरू कर दी. मुख्यमंत्री को भी पल पल की जानकारी दी जा रही थी. मोहम्मद मुफ़ीज़ पर नियोक्ता कंपनी ने 12 अप्रैल 2019 से रियाद के कोर्ट में मुकदमा कर रखा था. ऐसे में भारतीय दूतावास ने पहल कर उसे झूठे मुकदमे से निजात दिलाया और इमरजेंसी पासपोर्ट सर्टिफिकेट बनाकर उसे भारत लाने की पहल की गयी. मुख्यमंत्री ने कहा था कि हमारी कोशिश हो कि ईद उल जोहा से पहले मुफ़ीज़ घर आ जाये।

रघुवर दास ने मो मुफ़ीज़ की सकुशल वापसी पर खुशी जाहिर करते हुए कहा कि इशरत परवीन बहन की ईद और राखी दोनों ही क़ामयाब हुए.मुख्य मंत्री ने भारत के विदेश मंत्रालय और सऊदी अरब स्थित भारतीय दूतावास के प्रति आभार और धन्यवाद प्रकट किया है. मुख्यमंत्री ने झारखण्ड भवन के स्थानिक आयुक्त एम आर मीणा, अपने आप्त सचिव के पी बालियान को भी बधाई दी है. मुख्यमंत्री ने राज्य के मुख्यसचिव डॉ डी के तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह विभाग सुखदेव सिंह और अपने प्रधान सचिव डॉ सुनील कुमार वर्णवाल को भी तत्पर कार्रवाई के लिए बधाई दी है.

Loading...

Check Also

गुजरात दंगे मामले में PM मोदी को क्लीन चिट : जानिए रिपोर्ट में कही गईं 6 जरूरी बातें

अहमदाबाद. गुजरात में साल 2002 में हुए दंगे को लेकर गठित जस्टिस जीटी नानावती आयोग की ...

सियाचिन में प्लास्टिक का कचरा, साफ करने के लिए भारतीय सेना का विशेष अभियान ‘प्लॉगिंग’

सियाचिन ग्लेशियर: हाड़ कंपा देने वाली ठंड और दुर्गम पहाड़ियों में हरे रंग के लिबास में ...

CAB के जबरदस्त विरोध की वजह से शादियों पर पड़ा असर, दुल्हन तक बारात नहीं ले जा पा रहे हैं दूल्हे

कोलकाता: नागरिकता संशोधन विधेयक (सीएबी) पर पूर्वोत्तर में उग्र विरोध प्रदर्शन चल रहा है। असम सहित ...

तीसरे चरण के अतिसंवेदनशील बूथों पर हेलिकॉप्टर से भेजे गए मतदानकर्मी

रांची : झारखंड की 81 विधानसभा सीटों पर 5 चरणों में चुनाव हो रहे हैं। ...