Saturday , March 23 2019
Home / मनोरंजन / सब्र का घूँट दूसरों को पिलाना कितना आसान लगता है, खुद पियो तो कतरा-कतरा जहर लगता है

सब्र का घूँट दूसरों को पिलाना कितना आसान लगता है, खुद पियो तो कतरा-कतरा जहर लगता है

हर तरफ हर जगह बेशुमार इंसान,

फिर भी तनहाईयों का शिकार इंसान,

कुछ लोग हम से सिखकर,

हमी को सिखाने लगते है।

अपनी हैसियत पर कभी घमंड मत करना,

क्योंकि उड़ान जमीन से ही शुरू होती है,

और जमीन पर ही खत्म होती है।

 

स्मरण के पन्नो से भरा है जीवन,

सुख और दुःख कि पहेली है जीवन,

कभी अकेले बैठ कर चिंतन करके तो देखो,

संबंधों के बगैर अपूर्ण है जीवन।

Loading...

Check Also

मथुरा में हेमा और सपना के बीच हो सकता है कड़ा मुकाबला

लोकसभा चुनाव को लेकर सभी पार्टियाें ने कमर कस ली है और देखना यह है ...