Thursday , July 18 2019
Home / देश / सच्चाई जानकर सभी हैरान,दो पतियों को छोड़ा, अब तीसरे की तलाश में थी ये दुल्हन…

सच्चाई जानकर सभी हैरान,दो पतियों को छोड़ा, अब तीसरे की तलाश में थी ये दुल्हन…

रुपए लेकर शादी कराने और फिर परिवार को चकमा देकर फरार होने वाली लुटेरी दुल्हन और उसके साथियों को सुनेरा पुलिस ने दबोच लिया है। पुलिस की गिरफ्त में आई लुटेरी दुल्हन ने एक माह में दो लोगों और उनके परिवार को अपना शिकार बनाया है, वहीं तीसरे शिकार से शादी करने वाली थी, लेकिन मुखबिर की सूचना पर तीसरी शादी से ठीक पहले सुनेरा पुलिस ने लुटेरी दुल्हन और उसकी गैंग को दबोच लिया। पुलिस पूछताछ में गैंग ने जो खुलासा किया है, उससे सभी के होश उड़ गए।
 
इंदौर सम्मेलन में हुई शादी
राजगढ़ जिले के ब्यावरा निवासी प्रवीण की शादी 18 मई 2019 को इंदौर में आयोजित सम्मेलन में अंजलि पिता सुरेश वैष्णव निवासी एरोड्रम रोड इंदौर से हुई थी। शादी के बाद प्रवीण दुल्हन को लेकर पनवाड़ी में रहने वाले उसके जीजा कमल शर्मा उर्फ मूलचंद गुरु पिता भंवरलाल के घर आ गया। 4-5 दिन प्रवीण यहां पर उसके साथ ही रहा।

इसके बाद उक्त दुल्हन के नकली परिजन रचना और उसका पति अजय पटेल (बहन और जीजा) उसे लेने पनवाड़ी आए। यहां से दुल्हन अंजलि अपने नकली परिजनों के साथ चली गई। कुछ दिनों के बाद जब प्रवीण ने अपनी पत्नी के जीजा को फोन करके अपनी पत्नी को लाने की बात कही तो उसकी पत्नी के जीजा अजय ने प्रवीण से 50 हजार रुपए की मांग की। ऐसे में प्रवीण ने अपनी जीजा कमल शर्मा उर्फ मूलचंद गुरु के साथ सुनेरा थाने पर पहुंचकर मामले की शिकायत कर दिया।

दुल्हन के परिजनों ने लिए थे डेढ़ लाख नकद
प्रवीण ने बताया कि अंजलि निवासी इंदौर से उसकी शादी के लिए उसके परिजनों ने 1.50 लाख रुपए नकद और सोने-चांदी के आभूषण भी लिए थे। अब जबकि वो अपनी पत्नी को लाने के लिए फोन कर रहा है तो उससे 50 हजार रुपए की और मांग भी की जा रही है।
पुलिस जांच में खुलती गई पूरे गैंग की करतूतें
मामला संज्ञान में मिलने के बाद जब सुनेरा पुलिस ने इसकी पड़ताल शुरू की तो पता लगा कि प्रवीण से शादी के बाद अंजलि नकली बहन रचना व जीजा अजय के साथ मिलकर गुना जिले के कुंभराज निवासी गणेश पिता ईश्वर शर्मा से भी 31 मई को शादी कर लिया। जांच आगे बढ़ी तो पता लगा कि अंजलि और उसके नकली परिजन गणेश के परिजनों को भी लाखों रुपए की चपत लगाकर फरार हो गए है।

मुखबीर से पुलिस को सूचना मिली कि अब लुटेरी दुल्हन और उसकी गैंग राजस्थान के पाटन में एक अन्य व्यक्ति और उसके परिवार को भी अपना तीसरा शिकार बना रहे है। इसके पहले तीसरा परिवार लुटेरी दुल्हन की गैंग के चंगुल में फंसता उसके पहले ही सुनेरा पुलिस ने इस पूरे गैंग को दबोच लिया।

इस तरह देते थे पूरे वारदात को अंजाम
पूछताछ में लुटेरी दुल्हन ने बताया है कि उसके नकली रिश्तेदार ऐसे लोगों को ढूंढते थे जिन्हें शादी के लिए लड़की की जरूरत होती और जो शादी के लिए रुपए भी दे सकते थे। गिरोह की सरगना रचना निवासी नगीन नगर, इंदौर की है। जो अपनी साथी अजय पटेल निवासी ग्राम मुगली आष्टा और बद्रीलाल पिता गेंदालाल निवासी बड़ी ग्वालटोली इंदौर के साथ ही मिलकर स्वसहायता समूह संचालित करते थे। इसी दौरान ये शादी के लिए अपना शिकार भी ढूंढते थे। लुटेरी दुल्हन अंजलि ने बताया कि इस गैंग में उसके अतिरिक्त और भी कई सारी लड़कियां हैं। जिसे उक्त गैंग के सदस्य शादी करवाकर लोगों के साथ धोखाधड़ी करते थे।
Loading...

Check Also

वैज्ञानिकों ने की 2 नए ग्रहो की खोज , जहां हो सकता है जीवन का आसार

आज विज्ञान इतना एडवांस्ड हो गया है की उसकी सीमाएं अब यूनिवर्स से भी आगे ...