Saturday , July 20 2019
Home / Home / सख्ती से निपटेगी सरकार,आतंकवाद किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं

सख्ती से निपटेगी सरकार,आतंकवाद किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं

नई दिल्ली . केंद्र सरकार ने कहा कि आतंकवाद को लेकर उसकी जीरो टोलरेंस यानी किसी भी स्थिति में बर्दाश्त नहीं करने की नीति है इसलिए आतंकवाद से समझौता नहीं किया जाएगा लेकिन यह भी सुनिश्चित किया गया है कि किसी निर्दोष को बेवजह तंग नहीं किया जाए।

गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने सोमवार को लोकसभा में आतंकवाद को रोकने के लिए ‘विधि विरुद्ध क्रियाकलाप (निवारण) संशोधन विधेयक 2019’ तथा राष्ट्रीय अन्वेषण अधिकरण (संशोधन) विधेयक 2019’ पेश करते हुए सदन को आश्वासन दिया कि सरकार यह दोनों विधेयक आतंकवाद के विरुद्ध अपनी जीरो टाेलरेंस नीति को अागे बढाने तथा एनआईए को ज्यादा अधिकार देने के मकसद से लाई है। उन्होंने अाश्वस्त किया कि विधेयक बहुत गंभीरता से तथा पूरा समय लेकर तैयार किए गए हैं इसलिए किसी सदस्य को विधेयक को लेकर चिंता नहीं करनी चाहिए।

उन्होंने कहा, विधेयक के पारित होने से राष्ट्र विरोधी गतिविधि में शामिल किसी व्यक्ति के खिलाफ सरकार सख्त कार्रवाई कर सकती है। विधेयक में सख्त प्रावधान किए गए हैं कि आतंकवाद फैलाने में शामिल व्यक्ति को किसी भी स्तर बख्शा ही जाएगा और निर्दोश को परेशान नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा, एनआईए को संयुक्त राष्ट्र के समझौते के अनुरूप काम करने के अधिकार देने तथा उसको और मजबूत बनाने के इसमें प्रावधान हैं।

आतंकवाद के नाम पर अधिकारों का दुरुपयोग हो सकता है: कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी तथा शशि थरूर ने कहा कि आतंकवाद के नाम पर इस अधिकार का दुरुपयोग हो सकता है लेकिन विधेयक में उसको रोकने लिए कोई वादा नहीं किया गया है। एनएआई संबंधी विधेयक पर उन्होंने सवाल उठाया कि इस विधेयक को सदन में लाने की आवश्यकता नहीं थी।

सीमा पर गोला- बारूद रखने के लिए 150 बंकर तैयार : जम्मू| जम्मू-कश्मीर के पुंछ जिले में केंद्रीय गृहमंत्री द्वारा घोषित महत्वाकांक्षी योजना के तहत नियंत्रण रेखा से लगे सीमावर्ती निवासियों के लिए बनाए जा रहे कंक्रीट के 350 बंकरों में से 150 बंकर तैयार हो गए हैं। इनका निर्माण नियंत्रण रेखा व अंतर्राष्ट्रीय सीमा से लगे इलाकों में हो रहा है।

ये बंकर व सामुदायिक आश्रय गृह, राज्य व केंद्र सरकार के सीमावर्ती निवासियों की सुरक्षा  योजना का हिस्सा हैं। केंद्र सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर में पाकिस्तान की लगातार गोलाबारी को देखते हुए राज्य में पाक सीमा से सटे गांवों की जनता के लिए हर घर में बंकर बनाने की योजना लाई है ताकि आने वाले दिनों में पाकिस्तान की गोलीबारी में और लोगों को नुकसान न हो और ना ही किसी की जान जाए। 2017 में पाकिस्तान द्वारा 167 बार संगर्ष विराम का उल्लंघन  किया गया।

करते हुए कई भारतीय सीमा चौकियों के साथ ही स्थानीय लोगों सहित सुरक्षाबलों को अपना निशाना बनाया है। पाकिस्तान ने 2016 में 204 बार, 2015 में 305 बार और साल 2014 में 127 बार सीजफायर का उल्लंघन किया है। वहीं 2017 में 109 मारे गए। इसमें अंतर्राष्ट्रीय सीम पर तैनात रहने वाले सीमा सुरक्षाबलों 59 जवान भी शामिल हैं।

कुपवाड़ा में विस्फोट, सेना का जवान घायल : श्रीनगर। उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में नियंत्रण रेखा के समीप सोमवार को एक विस्फोट में सेना का एक जवान घायल हो गया। यह जवान कुपवाडा में जुमगंद जगल क्षेत्र में एक चौकी पर था और इसी दौरान हुए विस्फोट में वह घायल हो गया। घायल जवान को तुरंत द्रुगमुल्ला के सैन्य अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी हालत स्थिर बताई जाती है। रक्षा मंत्रालय के प्रवक्ता ने इस घटना की पुष्टि नहीं की है।

Loading...

Check Also

Russian Mail Order – read review

Meet Russian Mail Order Brides and also Singular Ukrainian Ladies Although this web page has ...