Sunday , March 24 2019
Home / हेल्थ &फिटनेस / शरीर में वाइट ब्लड सेल्स बढ़ाती हैं ये 5 चीजें, 2 दिन में होगा बुखार, फ्लू का सफाया

शरीर में वाइट ब्लड सेल्स बढ़ाती हैं ये 5 चीजें, 2 दिन में होगा बुखार, फ्लू का सफाया

सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या कम होने में वायरल इन्फेक्शन, जन्मजात विकार, कैंसर, ऑटोइम्यून डिजीज, अन्य गंभीर संक्रमण, एंटीबायोटिक्स दवाएं, खराब पोषण और शराब का सेवन आदि का अहम रोल है।

शरीर में सफेद रक्त कोशिकाओं white blood cells (WBCs) के कम होने से इम्युनिटी सिस्टम कमजोर हो जाता है और आपको बार-बार सर्दी, खांसी, फ्लू और बुखार जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। श्वेत रक्त कोशिकाओं को ल्यूकोसाइट्स के साथ-साथ श्वेत कोषिका भी कहा जाता है। ये रक्त के सेलुलर घटक होते हैं जिनमें हीमोग्लोबिन की कमी होती है लेकिन एक नाभिक होता है। श्वेत रक्त कोशिकाएं भी मोटिव होती हैं और इनका मुख्य कार्य शरीर को संक्रमण और बीमारी से बचाना है।

सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या कम होने के कारण (Causes Low White Blood Cell Count)

 

सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या कम होने में वायरल इन्फेक्शन, जन्मजात विकार, कैंसर, ऑटोइम्यून डिजीज, अन्य गंभीर संक्रमण, एंटीबायोटिक्स दवाएं, खराब पोषण और शराब का सेवन आदि का अहम रोल है।

सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या कम होने के लक्षण (Signs And Symptoms Of Low White Blood Cell Count)

सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या कम होने के लक्षणों में तेज बुखार, ठंड लगना, पसीना आना, सूजन और लालिमा, मुंह के छाले, गले में खराश, गंभीर खांसी, साँसों की कमी आदि शामिल हैं। इस तरह का कोई भी लक्षण दिखने पर तुरंत अपनी डाइट में सुधार करें।

सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या बढ़ाने के उपाय (Home Remedies That Boost The White Blood Cell Count)

1) लैवेंडर ऑयल

 

लैवेंडर ऑयल का अक्सर तनाव और चिंता का इलाज करने और नींद को बढ़ावा देने के लिए उपयोग किया जाता है। यह डब्ल्यूबीसी काउंट को भी बढ़ाता है, इस प्रकार आपकी संपूर्ण प्रतिरक्षा को बढ़ाता है। इसके लिए किसी भी अन्य तेल के 60 एमएल में लैवेंडर के तेल की 20 बूंदें मिलाकर शरीर की मालिश करें।

2) लहसुन

 

लहसुन में इम्युनोमोडायलेटरी और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो सफेद रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को उत्तेजित करके आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ावा देता है, जिसमें लिम्फोसाइट्स, ईोसिनोफिल्स और मैक्रोफेज भी शामिल हैं। आप लहसुन को खाने के अलावा कच्चा भी खा सकते हैं।

3) पालक

 

पालक विटामिन ए, सी, और ई का एक बेहतर स्रोत है जो डब्ल्यूबीसी काउंट को बढ़ावा देने के लिए जाना जाता है। आपको अपनी डाइट में पालक शामिल करना चाहिए। आप पालक को सलाद के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसका ज्यादा फायदा लेने के लिए आपको रोजाना पालक का सेवन करना चाहिए।

4) पपीते के पत्ते

 

पपीते के पत्तों में एसिटोजेनिन होते हैं, जो महत्वपूर्ण यौगिक हैं जो डब्ल्यूबीसी काउंट को बढ़ाकर आपकी प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं। वास्तव में, पत्तियां डेंगू बुखार के लिए एक महान उपचार के रूप में काम करती हैं। इसके लिए आप पपीते के पत्तों का जूस पी सकते हैं।

5) दही

दही में पाए जाने वाले प्रोबायोटिक्स प्रतिरक्षा को बढ़ाते हैं। इसके अलावा दही में उत्तेजक गुण भी हैं जो सफेद रक्त कोशिकाओं को बढ़ाने में मदद करते हैं। इसके लिए आपको रोजाना एक कटोरा दही का सेवन करना चाहिए।

Loading...

Check Also

इस फल से जबरदस्त फायदे होते हैं, फायदे जानकर हैरान रह जाओगे

जब किसी व्यक्ति या फिर महिला को कब कौन सी बीमारी हो जाए कुछ कहा ...