Home / देश / लड़की को ड्रग्स का ओवरडोज देकर होटल में किया गैंगरेप, कि ऐसी हैवानियत की कई दिन तक पीड़िता को नहीं आया होश

लड़की को ड्रग्स का ओवरडोज देकर होटल में किया गैंगरेप, कि ऐसी हैवानियत की कई दिन तक पीड़िता को नहीं आया होश

चंडीगढ़ से फिर एक बार ऐसी खबर आई है जिससे भारत मे महिलाओं की सुरक्षा के संबंध में किए जा रहे वादों की पोल खुल गई है। जी हां, दरअसल यहां पंचकूला के सेक्टर-11 के एक होटल में एक लड़की को ड्रग्स के इंजेक्शन देकर गैंग रेप करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है।

आपको बता दें कि इस मामले में पंचकूला पुलिस की एसआईटी इन्वेस्टिगेशन कर रही है। कई सप्ताह के इलाज के बाद एक ओर जहां अब पीजीआई से लड़की को छुट्टी मिल गई, वहीं इस मामले में पुलिस एक प्राइवेट अस्पताल के डॉक्टर्स से लेकर स्टाफ से पूछताछ करेगी।

बता दें कि अस्पताल से कुछ रिकॉर्ड जब्त किए गए हैं। दरअसल पुलिस की जांच में कई चौकाने वाले खुलासे हुए हैं। इसमें यह सामने आया है कि जब लड़की को हेरोइन का ओवरडोज इंजेक्शन दिया गया तो उसकी हालत बिगड़ने पर उसे सेक्टर 12ए के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में ले जाया गया। जहां लड़की की हालत गंभीर होने के बाद भी उसे छुट्टी दे दी गई हालांकि इस बारे में पुलिस को जानकारी ही नहीं दी गई।

सारे आरोपी हो चुके हैं गिरफ्तार

आपको बता दें कि पुलिस इस मामले में पहले ही सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है, लेकिन अभी तक लड़की से पूरी डिटेल नहीं ली गई क्योंकि वो अभी तक पीजीआई में एडमिट थी। मालूम हो कि ड्रग्स की ओवरडोज के कारण उसकी किड़नियों पर असर पड़ा है, जिसके चलते उसका लंबा इलाज चला है।

लड़की मिली थी बेसुध हालत में

आपको बता दें कि वारदात की रात करीब साढ़े 10 बजे लड़की की हालत बिगड़ गई थी और वह बेसुध हो गई थी। जिसके बाद उसे अस्पताल ले जाया गया। यहां उसका इलाज किया गया। डॉक्टर्स ने लिखा कि लड़की बेसुध थी यानि कि अन कॉन्शियस थी। बता दें कि जब डॉक्टर्स को उसकी हालत के बारे में पता चला तो उसके बाद भी पुलिस को इस बारे में जानकारी नहीं दी गई। ऐसे में अब डॉक्टर और बाकी स्टाफ को एसआईटी ने बयान दर्ज करवाने के लिए बुलाया है।

कई दिन तक दर्ज नहीं हुआ केस

मालूम हो कि लड़की को मौके पर छोड़कर आरोपी फरार हो गए थे जिसके बाद उसे सेक्टर-6 ले जाया गया। जहां से उसे पीजीआई रैफर कर दिया गया था। इसी सप्ताह इलाज के बाद लड़की की पीजीआई से छुट्टी हुई है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि ड्रग्स की ओवरडोज होने के कारण कई दिनों तक तो लड़की को होश ही नहीं आया था। ये भी सामने आया है पुलिस कई दिन तक न तो बयान दर्ज कर पाई थी और न ही एफआईआर।

Loading...

Check Also

4 बजे तक औसत 52% वोटिंग: बंगाल में एक बूथ के पास बम फेंका गया, मुर्शिदाबाद में झड़प के दौरान वोटर की मौत

नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के तीसरे चरण के लिए 15 राज्यों की 117 सीटों पर वोटिंग ...