Home / वायरल न्यूज़ / लड़कियों को बड़ा करने के लिए इस जगह पिलाया जाता है खतरनाक केमिकल, ऐसा क्यों..!

लड़कियों को बड़ा करने के लिए इस जगह पिलाया जाता है खतरनाक केमिकल, ऐसा क्यों..!

संसार में एक देश ऐसा भी है जहां कम आयु की लड़कियों की मोटापा बढ़ाने के लिए उनपर जुल्म-ओ-सितम किया जा रहा है। इन लड़कियों को एक दिन में 16,000 तक कैलोरी खाने के लिए मजबूर किया जा रहा है। दरअसल इस देश के मर्दों को विवाह के लिए मोटी लड़कियां ही पसंद हैं, इसीलिए यहां लड़कियों पर यह अत्याचार कोई दूसरा नहीं जबकि उनके अपने ही घर वाले कर रहे हैं ताकि घर की लड़कियां खूबसूरत दिखें तथा उनकी विवाह जल्दी हो जाए। ‘चैनल्स 4 अनरिपोर्टेड वर्ल्ड’ ने अपनी नई डॉक्यूमेंट्री में अफ्रीका के देश मॉरीटेनिया में लड़कियों के साथ हो रहे इस अत्याचार को लेकर यह चौंकाने वाला पर्दाफाश किया है।
  इस डॉक्यूमेंट्री में बताया गया है कि इस देश में 11 वर्ष की लड़कियों के लिए 2 महीने का विशेष फीडिंग सीजन होता है। इस सीजन में इन बच्चियों को मोटा होने के लिए ऊंट का दूध, पॉरिएज इत्यादि अधिक से अधिक खिलाया जाता है ताकि उनका वजन बढ़ सके। लड़कियों को जबरदस्ती भी इस सीजन में खिलाया जाता है। किन्तु इस देश में गरीब परिवारों में पैदा होने वाली लड़कियों के लिए तो हालात और बुरे हैं। पैसों की कमी की वजह से घर के लोग बच्चियों को जानवरों को मोटा करने वाला कैमिकल तक खाने पर मजबूर करते हैं।
आवशयकता से अधिक कैलोरी युक्त भोजन लेने की कारण से बच्चियों को डायबिटीज, हार्ट की रोग और किडनी फेल होने का खतरा रहता है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा यानी एनएचएस के अनुसार 10-11 वर्ष की बच्ची के लिए 1900 कैलोरी की खुराक पर्याप्त है किन्तु यहां बच्चियों को नाश्ते में 3000 कैलोरी, लंच में 4000 कैलोरी तथा रात के भोजन में 2000 कैलोरी तक दी जा रही है। गरीब घरों में बच्चियों को स्टेरॉयड देने से बहुत बच्चियों की मौत भी हो रही है।
Loading...

Check Also

800 साल से बंद था ये कमरा, जब खोला दरवाज़ा तो सबकी आंखें फटी की फटी रह गईं

भारत का इतिहास बहुत ही बड़ा है जिसे कुछ पन्नों में नहीं समेटा जा सकता ...