Friday , March 22 2019
Home / home / राहुल के बयान ‘मसूद जी’ पर वार करनेवाली भाजपा का अब ‘हाफिज जी’ वाला वीडियो आया सामने

राहुल के बयान ‘मसूद जी’ पर वार करनेवाली भाजपा का अब ‘हाफिज जी’ वाला वीडियो आया सामने

नई दिल्ली:राहुल गांधी के मसूद जी के बयान के बाद फुल एक्शन मोड़ में आ गई भाजपा का भी हाफिज जी वाला वीडियो कांग्रेस लाइ है। अब भाजपा इस पर क्या नया लाती है ये देखने की बात है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को वर्षों पहले भारतीय जेल से छोड़े जाने को लेकर भाजपा पर तंज कसते हुए इस आतंकी के लिए ‘जी’ शब्द लगाकर संबोधित किया। इसके बाद भाजपा नेताओं ने कांग्रेस अध्यक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि मसूद अजहर के प्रति इस श्रद्धा भाव से स्पष्ट है कि राहुल को आतंकवादियों से प्रेम है। वहीं कांग्रेस का कहना है कि राहुल गांधी ने कटाक्ष करते हुए इस आतंकी के लिए ‘जी’ का संबोधन किया, लेकिन ‘गोदी मीडिया’ और सत्तारूढ़ पार्टी जानबूझकर इस बात को घुमा रहे हैं।

भाजपा ने अपने ट्वीटर एकाउंट पर ‘हैशटैग राहुल लव्स टेररिस्ट’ के साथ कहा कि देश के 44 वीर जवानों की शहादत के लिए जिम्मेदार आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना के लिए राहुल गांधी के मन में इतना सम्मान!’ भाजपा ने ट्वीट के साथ उनके भाषण का वीडियो भी जारी किया। भाजपा के वरिष्ठ नेता रविशंकर प्रसाद ने कहा, पहले दिग्विजय सिंह जी ने ‘ओसामा जी’ और हाफिज सईद जी कहा। अब आप (राहुल गांधी) मसूद अजहर जी कह रहे हैं। कांग्रेस पार्टी को यह क्या हो गया है। वहीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने ट्वीट किया, राहुल गांधी और पाकिस्तान में साझी बात क्या है। यह आतंकवादियों के लिये उनका प्रेम है। ईरानी ने कहा कि कृपया नोट करें कि मसूद अहजर के प्रति श्रद्धा…इस बात का सबूत है कि राहुल आतंकवादियों से प्रेम करते हैं।

इसके बाद भाजपा के निशाने पर पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद का एक वीडियो शेयर किया है, जिसमें वह लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी हाफिज को हाफिज जी कह रहे हैं। कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी ने रविशंकर प्रसाद का वह वीडियो शेयर किया है। इसके साथ ही उन्होंने लिखा है, उम्मीद करते हैं कि भाजपा की वेबसाइट सही होने के बाद इस वीडियो को वहां जगह मिलेगी। यह वीडियो हमें याद दिलाता है कि किस तरह से इन्होंने अपने विशेष दूत वेद प्रताप वैदिक तो उनके साथ बातचीत करने और गले लगाने के लिए भेजा था। वहीं से हगप्लोमेसी की शुरुआत हुई थी।

Loading...

Check Also

बाप है 80,000 करोड़ रुपए का मालिक, लेकिन बेटा 30 लाख रूपये लेकर खेलेगा आईपीएल

आईपीएल में हर बार करोड़ों रुपए खर्च हो जाते हैं और इसी कारण आईपीएल क्रिकेट ...